ताज़ा समाचार   उच्च शिक्षा मंत्री द्वारा एक्यूप्रेशर पार्क के विकास कार्यों का भूमि-पूजन                युवा बढ़े सपने देखें और समृद्ध देश के निर्माण में सहयोग करें                ग्वालियर में भी चलेगी मेट्रो..                रबी सीजन में ट्रांसफार्मर प्रबंधन पर विशेष जोर                अनुसूचित जाति विद्यार्थियों के छात्रावासों में 10 हजार सीट की वृद्धि                श्रम कानूनों को सरल बनाने मंत्रि-परिषद् द्वारा बड़े संशोधनों को मंजूरी                उद्योग संवर्धन नीति-2014 का अनुमोदन                प्रदेश के 212 विकासखण्ड में द्वार-प्रदाय योजना                6 दिसंबर 2014 को सभी स्तर के न्यायालय में नेशनल एवं मेगा लोक अदालत                मध्यप्रदेश दिवस समारोह में "स्वच्छ मध्यप्रदेश" होगी मुख्य थीम                    
सहायक प्राध्‍यापक को प्राध्‍यापक बनाया जाये

               मध्‍यप्रदेश हाई कोर्ट ने एक याचिका का इस निर्देश के साथ निपटारा कर दिया कि आवेदक को नियमों के प्रकाश में सहायक प्राध्‍यापक से प्रोफेसर बनाया जाये साथ ही 2005 से अब तक सभी अपेक्षित लाभ भी प्रदाय किये जाये। इसके लिए दो माह का समय भी दिया गया है। इस दौरान याचिकाकर्ता बैतूल निवासी यशपाल के वकील ने दलील दी कि जयंती हाथकर स्‍नातकोत्‍तर महाविद्यालय बैतूल में सहायक प्राध्‍यापक हैं। उनकी नियुक्ति वर्ष 1987 में हुई थी, जब प्रोवीजनल वरिष्‍ठता लिस्‍ट जारी की गई तब उसका नाम 99 नंबर था, लेकिन फाइनल लिस्‍ट से नाम अलग कर दिया गया। इस बीच आवेदक ने सूचना के अधिकार के तहत आवेदन लगाया, तो उसमें बताया गया कि पीएचडी न करने के कारण वरिष्‍ठता सूची से नाम हटाया गया।


 
बड़ी खबरें (Breaking News)
आगे पढें...
 
एम. पी. राग ब्लॉग
Rajesh Dubey
ब्लॉग के लिए यहां क्लिक करें
 
फोटो गेलरी
More
 
वीडियो गेलरी
More
 
राशिफल
 Aries / मेष राशि
 
Opinion Poll
Q.
Yes No Don't Say
Previous Poll
Q.
Yes :  |  No :  |  Don't Say :
 
Advertisment


 
 
you can ad here ......
 
संपर्क करें      मुख्य सवाल जवाब      आपके सुझाव      संस्थान    
Copyright © 2013-14 www.mpnewslive.com