ताज़ा समाचार   उच्च शिक्षा मंत्री द्वारा एक्यूप्रेशर पार्क के विकास कार्यों का भूमि-पूजन                युवा बढ़े सपने देखें और समृद्ध देश के निर्माण में सहयोग करें                ग्वालियर में भी चलेगी मेट्रो..                रबी सीजन में ट्रांसफार्मर प्रबंधन पर विशेष जोर                अनुसूचित जाति विद्यार्थियों के छात्रावासों में 10 हजार सीट की वृद्धि                श्रम कानूनों को सरल बनाने मंत्रि-परिषद् द्वारा बड़े संशोधनों को मंजूरी                उद्योग संवर्धन नीति-2014 का अनुमोदन                प्रदेश के 212 विकासखण्ड में द्वार-प्रदाय योजना                6 दिसंबर 2014 को सभी स्तर के न्यायालय में नेशनल एवं मेगा लोक अदालत                मध्यप्रदेश दिवस समारोह में "स्वच्छ मध्यप्रदेश" होगी मुख्य थीम                    
खाद्य सुरक्षा कानून को बदलने प्रधानमंत्री से आग्रह किया जायेगा

MPNEWSLIVE : 23 जनवरी, 2014
भोपाल।।  मुख्यमंत्री चौहान ने कहा है कि वे भारत सरकार द्वारा बनाये गये खाद्य सुरक्षा कानून में बदलाव की प्रधानमंत्री से माँग करेंगे। इस कानून के प्रावधानों से व्यापारियों को असुविधा हो रही है। वे आग्रह करेंगे कि जिन प्रावधानों से व्यापारियों को कठिनाई हो रही है, उन्हें कानून से हटाया जाये। मुख्यमंत्री आज धार में 'आओ बनायें अपना मध्यप्रदेश'' यात्रा सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। इस अवसर पर उन्होंने 23 करोड़ 23 लाख रुपये लागत के निर्माण कार्यों का भूमि-पूजन और लोकार्पण किया। उन्होंने हितग्राहीमूलक योजनाओं में 5,260 हितग्राही को 35 करोड़ 31 लाख रुपये की सामग्री और चेक वितरित भी किये।

        मुख्यमंत्री ने कहा कि जिलों की विकास योजनाएँ अब भोपाल में नहीं बनेंगी। जिला मुख्यालयों पर पंचायतें बुलाकर ये योजनाएँ निर्धारित होंगी। लोगों को रोटी, कपड़ा और मकान के साथ ही पढ़ाई-लिखाई और इलाज की सुविधा सुनिश्चित करवाई जायेगी। साथ ही मीडियाकर्मियों के कल्याण के लिये आवश्यक कदम उठाये जायेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के आर्थिक विकास को गति देने और रोजगार के अधिक अवसर उपलब्ध करवाने के लिये लघु एवं कुटीर उद्योगों का जाल बिछाया जा रहा है। व्यापार की उन्नति के लिये व्यापार उन्नयन बोर्ड का गठन किया जा चुका है। मुख्यमंत्री ने कहा कि अति वृष्टि और प्राकृतिक आपदा के कारण सोयाबीन की फसलें प्रभावित हुई हैं। प्रभावित किसानों को मुआवजा देने के लिये 600 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है। उन्होंने धार जिले के सरदारपुर में हाल ही में हुई ओला वृष्टि से प्रभावित किसानों को राहत देने के निर्देश दिये।

           मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के चहुँमुखी विकास और मध्यप्रदेश को नया स्वरूप देने के लिये समाज के सभी वर्ग के लोगों को मिलकर काम करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में अब कोई नया शराब कारखाना या दुकान नहीं खोली जायेगी। शराब की अवैध बिक्री पर प्रभावी रोक लगाई जायेगी। अच्छा काम करने वाले कर्मचारियों को पुरस्कृत और लापरवाह कर्मचारियों को दण्डित किया जायेगा। उन्होंने लोगों से वृक्षारोपण करने, पानी का समुचित उपयोग करने, बिजली का पूरा सदुपयोग करने, गाँव को नशामुक्त बनाने, बच्चों को स्कूल भेजने तथा महिलाओं का सम्मान करने की अपील की। उन्होंने उपस्थित जन-समुदाय को 'आओ बनायें मध्यप्रदेश'' का सामूहिक संकल्प भी दिलवाया।  इस अवसर पर विधायक श्रीमती नीना वर्मा, सांसद और विधायक, अन्य जन-प्रतिनिधि, प्रशासनिक अधिकारी और बड़ी संख्या में नागरिक उपस्थित थे। उन्होंने इस अवसर पर विभिन्न विभाग द्वारा लगाई गई हितग्राहीमूलक योजनाओं पर आधारित प्रदर्शनी का अवलोकन भी किया।


 
बड़ी खबरें (Breaking News)
आगे पढें...
 
एम. पी. राग ब्लॉग
Rajesh Dubey
ब्लॉग के लिए यहां क्लिक करें
 
फोटो गेलरी
More
 
वीडियो गेलरी
More
 
राशिफल
 Aries / मेष राशि
 
Opinion Poll
Q.
Yes No Don't Say
Previous Poll
Q.
Yes :  |  No :  |  Don't Say :
 
Advertisment


 
 
you can ad here ......
 
संपर्क करें      मुख्य सवाल जवाब      आपके सुझाव      संस्थान    
Copyright © 2013-14 www.mpnewslive.com