ताज़ा समाचार   उच्च शिक्षा मंत्री द्वारा एक्यूप्रेशर पार्क के विकास कार्यों का भूमि-पूजन                युवा बढ़े सपने देखें और समृद्ध देश के निर्माण में सहयोग करें                ग्वालियर में भी चलेगी मेट्रो..                रबी सीजन में ट्रांसफार्मर प्रबंधन पर विशेष जोर                अनुसूचित जाति विद्यार्थियों के छात्रावासों में 10 हजार सीट की वृद्धि                श्रम कानूनों को सरल बनाने मंत्रि-परिषद् द्वारा बड़े संशोधनों को मंजूरी                उद्योग संवर्धन नीति-2014 का अनुमोदन                प्रदेश के 212 विकासखण्ड में द्वार-प्रदाय योजना                6 दिसंबर 2014 को सभी स्तर के न्यायालय में नेशनल एवं मेगा लोक अदालत                मध्यप्रदेश दिवस समारोह में "स्वच्छ मध्यप्रदेश" होगी मुख्य थीम                    
मन में ललक और श्रम की भावना के आगे कठिनाइयाँ महत्वहीन

MPNEWSLIVE : 23 जनवरी, 2014
भोपाल।। अनुसूचित जाति-जनजाति कल्याण मंत्री ज्ञान सिंह ने 20 जनवरी को अनुसूचित जाति-जनजाति वर्ग के मेधावी छात्र-छात्राओं के लिये विभाग के नेतृत्व विकास शिविर का शुभारंभ किया। इस अवसर पर उन्होंने राज्य शासन द्वारा दिये जाने वाले शंकर शाह, रानी दुर्गावती और डॉ. भीमराव अम्बेडकर मेधावी विद्यार्थी पुरस्कार मेधावी छात्र-छात्राओं को वितरित किये। मंत्री ज्ञान सिंह ने अगले वर्ष से इन पुरस्कारों की राशि में वृद्धि की भी घोषणा की। अब यह पुरस्कार बीस, पन्द्रह, दस के स्थान पर 51, 31 और 21 हजार रुपये के होंगे। शिविर 28 जनवरी तक चलेगा। शिविर में आये विद्यार्थियों की विशिष्ट व्यक्तियों से भेंट करवाई जायेगी एवं आसपास के दर्शनीय-स्थलों का भ्रमण करवाया जायेगा।

           मंत्री ज्ञान सिंह ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने विकास के लिये 100 दिवसीय कार्य-योजना में उन आदिवासी छात्राओं को सायकल देने के बिन्दु को भी शामिल करवाया है, जिन्हें 9वीं कक्षा में सायकल नहीं मिल पाई, भले ही अब वे छात्राएँ 10वीं या 12वीं में पढ़ रही हैं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री की यह सोच सिद्ध करती है कि सरकार का ध्येय प्रदेश के विकास में गरीब एवं पिछड़े वर्ग के लोगों को आगे रखना है। ज्ञान सिंह ने अनुसूचित जाति-जनजाति के मेधावी छात्र-छात्राओं की प्रशंसा की। उन्होंने अपने बचपन के समय संसाधनों की कमी तथा निर्धनता का जिक्र करते हुए कहा कि मन में ललक और श्रम करने की भावना हो तो कठिनाइयाँ भी महत्वहीन हो जाती हैं। मंत्री सिंह ने कहा कि शासन ने अनुसूचित जाति-जनजाति वर्ग के विद्यार्थियों की प्रतिभा को विकास के अवसर देने के लिये ही इंदौर के 'महू'' में डॉ. बाबा साहब अम्बेडकर राष्ट्रीय सामाजिक विज्ञान विश्वविद्यालय भी आरंभ किया जा रहा है।

           प्रमुख सचिव पी.सी. मीणा ने कहा कि इतनी अधिक संख्या में यहाँ मेधावी छात्र-छात्राओं की उपस्थिति इस बात का प्रमाण है कि ग्रामीण अंचल में प्रतिभाओं की कमी नहीं है। आवश्यकता इन प्रतिभाओं को उभारने की है। मीणा ने कहा कि नेतृत्व विकास शिविर के माध्यम से अनुसूचित जाति-जनजाति वर्ग के दूर-दराज अंचलों में निवासरत विद्यार्थियों की प्रतिभा को समाज के सामने लाया जा रहा है। अनुसूचित-जाति विकास आयुक्त जे.एन. मालपानी ने शासन द्वारा अनुसूचित-जाति केविद्यार्थियों के लिये उच्च शिक्षा, व्यावसायिक शिक्षा एवं विदेशों में विशिष्ट अध्ययन तथा प्रशासनिक परीक्षाओं की तैयारियों के लिये दी जाने वाली आर्थिक सहायता के विषय में जानकारी दी।

मेधावी छात्र-छात्राओं को पुरस्कृत किया :

           मंत्री ज्ञान सिंह ने अनुसूचित जाति-जनजाति के मेधावी छात्र-छात्राओं को राज्य शासन द्वारा दिये जाने वाले शंकर शाह और रानी दुर्गावती तथा डॉ. भीमराव अम्बेडकर मेधावी पुरस्कार प्रदान किये। इनमें कक्षा दसवीं बोर्ड परीक्षा के छात्रों को स्वीकृत शंकर शाह पुरस्कार प्रथम श्रेणी के लिये सीधी के श्री प्रभाकर सिंह, द्वितीय श्रेणी के लिये मण्डला के श्री सागर सिंह धुर्वे, तृतीय श्रेणी के लिये खरगोन के सोहन रावत को प्रदान किया जायेगा। कक्षा बारहवीं की बोर्ड परीक्षा के लिये शंकर शाह पुरस्कार प्रथम श्रेणी के लिये शहडोल के देवराज सिंह मार्को, द्वितीय श्रेणी का पुरस्कार झाबुआ के राहुल गरवाल और तृतीय श्रेणी का पुरस्कार भोपाल के सागर दरबार को प्रदान किया जायेगा। कक्षा दसवीं की बोर्ड परीक्षा के लिये स्वीकृत रानी दुर्गावती पुरस्कार प्रथम श्रेणी के लिये नरसिंहपुर की कु. शालिनी ठाकुर, द्वितीय श्रेणी का पुरस्कार बुरहानपुर की कु. सुनयना सर्वे तथा तृतीय श्रेणी के लिये पुरस्कार शाजापुर की कु. श्रीबाला बिलाला एवं डिण्डोरी की कु. हर्षा उरेती को दिया जायेगा। कक्षा बारहवीं की बोर्ड परीक्षा के लिये रानी दुर्गावती पुरस्कार के लिये प्रथम श्रेणी का पुरस्कार मण्डला की कु. ज्योति परस्ते, द्वितीय श्रेणी का पुरस्कार बड़वानी की कु. ज्योति डाबर, तृतीय श्रेणी का पुरस्कार उज्जैन की कु. एकता गोंड को प्रदान किया जायेगा।

           डॉ. भीमराव अम्बेडकर मेधावी विद्यार्थी पुरस्कार पाने वाले 12 विद्यार्थी भी कार्यक्रम में पुरस्कृत किये गये। इनमें कक्षा बारहवीं के मनोज अहिरवार को प्रथम, अनूप प्रजापति द्वितीय, रवीन्द्र अहिरवार को तृतीय, कक्षा दसवीं के अक्षय कुमार अहिरवार को प्रथम, अशोक वर्मा को द्वितीय तथा सतीष कुमार प्रजापति को तृतीय पुरस्कार दिया गया। बारहवीं कक्षा की छात्रा कु. शिवांगी कछवाहा को प्रथम, कु. रोशनी शाक्यवार को द्वितीय तथा कु. आरती कोली को तृतीय पुरस्कार, कक्षा दसवीं में उत्कृष्ट अंक प्राप्त करने वाली कु. पूनम घोरे को प्रथम, कु. पुष्पा अहिरवार को द्वितीय तथा कु. कामिनी गोरखेड़े को तृतीय पुरस्कार दिया गया।


 
बड़ी खबरें (Breaking News)
आगे पढें...
 
एम. पी. राग ब्लॉग
Rajesh Dubey
ब्लॉग के लिए यहां क्लिक करें
 
फोटो गेलरी
More
 
वीडियो गेलरी
More
 
राशिफल
 Aries / मेष राशि
 
Opinion Poll
Q.
Yes No Don't Say
Previous Poll
Q.
Yes :  |  No :  |  Don't Say :
 
Advertisment


 
 
you can ad here ......
 
संपर्क करें      मुख्य सवाल जवाब      आपके सुझाव      संस्थान    
Copyright © 2013-14 www.mpnewslive.com