ताज़ा समाचार   उच्च शिक्षा मंत्री द्वारा एक्यूप्रेशर पार्क के विकास कार्यों का भूमि-पूजन                युवा बढ़े सपने देखें और समृद्ध देश के निर्माण में सहयोग करें                ग्वालियर में भी चलेगी मेट्रो..                रबी सीजन में ट्रांसफार्मर प्रबंधन पर विशेष जोर                अनुसूचित जाति विद्यार्थियों के छात्रावासों में 10 हजार सीट की वृद्धि                श्रम कानूनों को सरल बनाने मंत्रि-परिषद् द्वारा बड़े संशोधनों को मंजूरी                उद्योग संवर्धन नीति-2014 का अनुमोदन                प्रदेश के 212 विकासखण्ड में द्वार-प्रदाय योजना                6 दिसंबर 2014 को सभी स्तर के न्यायालय में नेशनल एवं मेगा लोक अदालत                मध्यप्रदेश दिवस समारोह में "स्वच्छ मध्यप्रदेश" होगी मुख्य थीम                    
व्यापमं घोटाले के आरोपी सुधीर शर्मा ने की शिव कैबिनेट की दिल्ली यात्रा हेतु विशेष विमान की व्यवस्था- के.के. मिश्रा

MPNEWSLIVE : 28 मई, 2014 

भोपाल ।।  प्रदेश कांगे्रस के मुख्य प्रवक्ता के.के. मिश्रा ने आरोप लगाया है कि कल दिल्ली में नरेन्द्र मोदी मंत्रि-मंडल के शपथ ग्रहण समारोह में म.प्र. के मंत्रियों की थोकबंद उपस्थिति दर्ज कराकर नये प्रधान मंत्री की नजर में अपने नंबर बढ़वाने के लिए मुख्य मंत्री शिवराजसिंह चौहान अपने मंत्रि-मंडल को एक विशेष विमान (चार्टर्ड प्लेन) से लेकर दिल्ली पहुंचे थे। कांगे्रस पार्टी को इस पर कोई आपत्ति भी नहीं है, क्योंकि केंद्र और राज्यों के बीच परस्पर मधुरता और सौहार्द जरूरी है। मुख्य मंत्री स्वयं यह जानते थे कि जब तक केंद्र में नया मंत्रि-मंडल न बन जाए, वे अपने मंत्रि-मंडल की इस महंगी यात्रा को राज्य सरकार के खाते में नहीं डाल सकते। ऐसी दशा में व्यापमं घोटाले के आरोपी एवं पूर्व मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा के खासमखास खनिज एवं शिक्षा माफिया सुधीर शर्मा द्वारा शिव कैबिनेट के लिए 26 मई 2014 को विशेष विमान की व्यवस्था की गई थी। बताया जाता है कि यह विशेष विमान 26 मई को दोपहर बाद भोपाल हवाई अड्डे से उड़ा था और रात्रि में वापस लौट आया।
        मिश्रा ने कहा है कि मुख्य मंत्री शिवराजसिंह चौहान यदि कांगे्रस के इस आरोप से इंकार करते हैं, तो वे खुलासा करें कि क्या विशेष विमान के किराये की मोटी रकम का भुगतान दिल्ली गये मंत्रियों ने परस्पर धनराशि एकत्र कर किया गया है ? यदि विमान के किराये का इस तरह भुगतान नहीं हुआ है, तो प्रदेश की जनता जानना चाहती है कि इस खर्च का आखिर किसने भुगतान किया है ? इस बारे में खुलासा होना इसलिए भी आवश्यक है कि दिल्ली यात्रा चूंकि मंत्रियों की शासकीय यात्रा नहीं थी, इसलिए विमान के किराये का सरकारी मद से भुगतान का तो प्रश्न ही उपस्थित नहीं होता।
         कांगे्रस के मुख्य प्रवक्ता ने आगे कहा है कि भारतीय जनता पार्टी ने लोकसभा चुनाव के समय कालेधन को मुद्दा बनाया है-इसलिए यह बात सार्वजनिक होना ही चाहिए कि प्रदेश के मंत्रि-मंडल की इस चर्चित दिल्ली यात्रा का लाखों रूपये का भुगतान आखिर किसके द्वारा किया गया है ? क्या ऐसा संदिग्ध भुगतान भाजपा के शुचिता के सिद्धांत के अनुकूल है, क्योंकि इस प्रकार के भुगतान प्रायः कालेधन से ही किये जाते हैं ?


 
बड़ी खबरें (Breaking News)
आगे पढें...
 
एम. पी. राग ब्लॉग
Rajesh Dubey
ब्लॉग के लिए यहां क्लिक करें
 
फोटो गेलरी
More
 
वीडियो गेलरी
More
 
राशिफल
 Aries / मेष राशि
 
Opinion Poll
Q.
Yes No Don't Say
Previous Poll
Q.
Yes :  |  No :  |  Don't Say :
 
Advertisment


 
 
you can ad here ......
 
संपर्क करें      मुख्य सवाल जवाब      आपके सुझाव      संस्थान    
Copyright © 2013-14 www.mpnewslive.com