ताज़ा समाचार   उच्च शिक्षा मंत्री द्वारा एक्यूप्रेशर पार्क के विकास कार्यों का भूमि-पूजन                युवा बढ़े सपने देखें और समृद्ध देश के निर्माण में सहयोग करें                ग्वालियर में भी चलेगी मेट्रो..                रबी सीजन में ट्रांसफार्मर प्रबंधन पर विशेष जोर                अनुसूचित जाति विद्यार्थियों के छात्रावासों में 10 हजार सीट की वृद्धि                श्रम कानूनों को सरल बनाने मंत्रि-परिषद् द्वारा बड़े संशोधनों को मंजूरी                उद्योग संवर्धन नीति-2014 का अनुमोदन                प्रदेश के 212 विकासखण्ड में द्वार-प्रदाय योजना                6 दिसंबर 2014 को सभी स्तर के न्यायालय में नेशनल एवं मेगा लोक अदालत                मध्यप्रदेश दिवस समारोह में "स्वच्छ मध्यप्रदेश" होगी मुख्य थीम                    
महिला-बाल विकास की गतिविधियाँ टेबलेट पर

MPNEWSLIVE :14 जून , 2014 

भोपाल ।।   महिला-बाल विकास विभाग के मैदानी अमले के कार्यों का टेबलेट के माध्यम से मूल्यांकन होगा। महिला-बाल विकास मंत्री माया सिंह ने भोपाल में प्रदेश के पहले पायलेट प्रोजेक्ट के रूप में वात्सल्य साफ्टवेयर का एण्ड्राईड टेबलेट संस्करण का लोकार्पण किया। उन्होंने जे.पी. नगर के पर्यवेक्षकों को टेबलेट का वितरण किया।  सिंह ने कलेक्टर भोपाल निशांत वरवडे की इस पहल की सराहना करते हुए कहा कि ऐसे प्रयासों की पूरे प्रदेश में आवश्यकता है।

 
         माया सिंह ने कहा कि महिला-बाल विकास विभाग की व्यापक गतिविधियों के मूल्यांकन के लिए ऐसी पहल जरूरी थी जिससे पता चल सके कि विभाग की योजनाओं का लाभ जरूरतमंद तक पहुँच रहा है। उन्होंने इस पहल को महत्वपूर्ण कदम बताते हुए कहा कि निश्चित ही इससे सुपोषण अभियान को गति दे पाएँगे और विभाग की गतिविधियों का प्रभावी क्रियान्वयन मैदानी स्तर पर हो रहा है कि नहीं इसका पता लगा सकेंगे। उन्होंने कहा कि भोपाल में इस प्रोजेक्ट के सफल होने पर पूरे प्रदेश में इसे लागू किया जायेगा।
        कलेक्टर भोपाल निशांत वरवडे ने बताया कि महिला-बाल विकास विभाग के पर्यवेक्षकों के मैदानी कार्यों की रिपोर्टिंग के लिए पायलेट स्तर पर एक परियोजना में यह पहल की गई है। इसके माध्यम से पर्यवेक्षक अपने क्षेत्र की आँगनवाड़ियों के निरीक्षण, बच्चों के वजन, ऊँचाई एवं एम.यू.एस.सी की रिपोर्टिंग एवं नवजात अथवा गर्भवती महिलाओं की मृत्यु संबंधी सूचना टेबलेट के माध्यम से दर्ज करेंगे। इसके लिये विशेष रूप से पूर्व वर्ष संचालित वात्सल्य साफ्टवेयर का एण्ड्राईड टेबलेट संस्करण तैयार करवाया गया है।
          साफ्टवेयर WHO चार्ट के अनुरूप बच्चों के कुपोषण की ग्रेडिंग कर देता है जिसे बाद में सर्वर पर अपलोड कर दिया जाता है। सर्वर साफ्टवेयर अति कम वजन की श्रेणी के समस्त बच्चों के अभिभावकों को एस.एम.एस. के माध्यम से सूचना भी प्रेषित कर रहा है। इस साफ्टवेयर की विशेषता यह है कि पर्यवेक्षकों के निरीक्षण के समय यह स्वत: निरीक्षण स्थल की जानकारी देता है। इससे यह समीक्षा करना आसान होगा कि पर्यक्षवकों द्वारा किन-किन क्षेत्रों का निरीक्षण किया गया एवं किन-किन क्षेत्रों का कितने समय से निरीक्षण नहीं हो पा रहा है। इसके अतिरिक्त इसके माध्यम से आँगनवाड़ियों की जिओ मेपिंग एन.आर.सी फॉलोअप ग्रोथ चार्ट मानिटरिंग एवं कुपोषण के केलकुलेशन से संबंधित जानकारी प्राप्त करना भी आसान होगा।

 
बड़ी खबरें (Breaking News)
आगे पढें...
 
एम. पी. राग ब्लॉग
Rajesh Dubey
ब्लॉग के लिए यहां क्लिक करें
 
फोटो गेलरी
More
 
वीडियो गेलरी
More
 
राशिफल
 Aries / मेष राशि
 
Opinion Poll
Q.
Yes No Don't Say
Previous Poll
Q.
Yes :  |  No :  |  Don't Say :
 
Advertisment


 
 
you can ad here ......
 
संपर्क करें      मुख्य सवाल जवाब      आपके सुझाव      संस्थान    
Copyright © 2013-14 www.mpnewslive.com