ताज़ा समाचार   उच्च शिक्षा मंत्री द्वारा एक्यूप्रेशर पार्क के विकास कार्यों का भूमि-पूजन                युवा बढ़े सपने देखें और समृद्ध देश के निर्माण में सहयोग करें                ग्वालियर में भी चलेगी मेट्रो..                रबी सीजन में ट्रांसफार्मर प्रबंधन पर विशेष जोर                अनुसूचित जाति विद्यार्थियों के छात्रावासों में 10 हजार सीट की वृद्धि                श्रम कानूनों को सरल बनाने मंत्रि-परिषद् द्वारा बड़े संशोधनों को मंजूरी                उद्योग संवर्धन नीति-2014 का अनुमोदन                प्रदेश के 212 विकासखण्ड में द्वार-प्रदाय योजना                6 दिसंबर 2014 को सभी स्तर के न्यायालय में नेशनल एवं मेगा लोक अदालत                मध्यप्रदेश दिवस समारोह में "स्वच्छ मध्यप्रदेश" होगी मुख्य थीम                    
अंतर्राज्यीय विद्युत प्रबंधन और कम माँग के संबंध में निर्णय

MPNEWSLIVE : 21 जून , 2014 

भोपाल ।।  वेस्टर्न रीजन पॉवर कमेटी की दो दिवसीय 26 वीं बैठक में अंतर्राज्यीय विद्युत प्रबंधन और वर्षाकालीन बिजली की कम माँग की स्थिति को ध्यान में रखते हुए कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए। इससे निश्चय ही मध्यप्रदेश को विद्युत आधिक्य की स्थिति में होने के बावजूद कम माँग की स्थिति में लाभ होगा। बैठक की अध्यक्षता एम.पी.पॉवर मैनेजमेंट कंपनी लिमिटेड के प्रबंध संचालक  मनु श्रीवास्तव ने की।

       बैठक में महाराष्ट्र ट्रांस्को के प्रबंध संचालक श्री विपिन श्रीमाली के अलावा वेस्टर्न रीजन पॉवर कमेटी के सदस्य राज्य गुजरात,छत्तीसगढ़, एनटीपीसी, एनएचडीसी, एनएलडीसी, पॉवर ग्रिड, पोसोको सहित अन्य प्रतिनिधि शामिल हुए। बैठक में पॉवर मैनेजमेन्ट कंपनी लिमिटेड के डायरेक्टर (कामर्शियल) श्री के.सी. बड़कुल भी उपस्थित थे।
      बैठक में वर्षाकाल में आयातित कोयले के कम उपयोग पर सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया। बैठक में पूर्व में लंबित विषयों जैसे बिजली की कम माँग की स्थिति में एनटीपीसी की महँगी विद्युत यूनिटों को बंद कर अपेक्षाकृत कम महँगी विद्युत यूनिटों से बिजली लेना और वर्षा काल में आयातित कोयले का यथासंभव कम उपयोग कर विद्युत उत्पादन लागत को कम करना आदि निर्णय लिये गये।
      इन निर्णयों से मध्यप्रदेश को वर्षाकालीन अवधि में एनटीपीसी के मौदा पॉवर प्लांट से महँगी बिजली लेने की आवश्यकता नहीं होगी। कम बिजली की माँग की स्थिति में महँगे पॉवर प्लांट के स्थान पर अपेक्षाकृत कम महंगे पॉवर प्लांट से बिजली आपूर्ति की इस प्रक्रिया के लिए मध्यप्रदेश लोड डिस्पेच सेन्टर को नोडल कोआर्डिनेटर बनाया गया है।

 
बड़ी खबरें (Breaking News)
आगे पढें...
 
एम. पी. राग ब्लॉग
Rajesh Dubey
ब्लॉग के लिए यहां क्लिक करें
 
फोटो गेलरी
More
 
वीडियो गेलरी
More
 
राशिफल
 Aries / मेष राशि
 
Opinion Poll
Q.
Yes No Don't Say
Previous Poll
Q.
Yes :  |  No :  |  Don't Say :
 
Advertisment


 
 
you can ad here ......
 
संपर्क करें      मुख्य सवाल जवाब      आपके सुझाव      संस्थान    
Copyright © 2013-14 www.mpnewslive.com