ताज़ा समाचार   उच्च शिक्षा मंत्री द्वारा एक्यूप्रेशर पार्क के विकास कार्यों का भूमि-पूजन                युवा बढ़े सपने देखें और समृद्ध देश के निर्माण में सहयोग करें                ग्वालियर में भी चलेगी मेट्रो..                रबी सीजन में ट्रांसफार्मर प्रबंधन पर विशेष जोर                अनुसूचित जाति विद्यार्थियों के छात्रावासों में 10 हजार सीट की वृद्धि                श्रम कानूनों को सरल बनाने मंत्रि-परिषद् द्वारा बड़े संशोधनों को मंजूरी                उद्योग संवर्धन नीति-2014 का अनुमोदन                प्रदेश के 212 विकासखण्ड में द्वार-प्रदाय योजना                6 दिसंबर 2014 को सभी स्तर के न्यायालय में नेशनल एवं मेगा लोक अदालत                मध्यप्रदेश दिवस समारोह में "स्वच्छ मध्यप्रदेश" होगी मुख्य थीम                    
अनुसूचित जाति विद्यार्थियों के छात्रावासों में 10 हजार सीट की वृद्धि

MPNEWSLIVE : 25 जुलाई , 2014 

भोपाल ।।  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में आज सम्पन्न मंत्रि-परिषद् की बैठक में 12वीं पंचवर्षीय योजना से अनुसूचित जाति के विद्यार्थियों के लिये संचालित 20, 25 और 30 सीटर छात्रावासों को 50 सीटर करते हुए 10 हजार सीट की वृद्धि करने का निर्णय लिया गया।

      मंत्रि-परिषद् ने इस वर्ग के विद्यार्थियों के लिये नये प्री-मेट्रिक छात्रावास तथा 15 पोस्ट-मेट्रिक छात्रावासों के संचालन और 20, 25 और 30 सीट वाले 320 छात्रावास को 50 सीटर में परिवर्तित करने से बढ़ने वाली 10 हजार सीट के कारण प्री-मेट्रिक छात्रावासों के लिये 595 संविदा अधीक्षक तथा पोस्ट-मेट्रिक छात्रावासों के लिये 15 संविदा अधीक्षक के पद स्वीकृत किये। साथ ही 2150 पद चतुर्थ वर्ग कर्मचारियों के, 610 पद अंशकालीन सफाई कर्मचारियों के लिये स्वीकृत किये गये। मंत्रि-परिषद् ने 10 नये पोस्ट मैट्रिक छात्रावास वर्ष 2014-15 में संचालित करने का निर्णय लिया है।

मंत्रि-परिषद् ने राष्ट्रीय-स्तर पर एक कृषि अभियांत्रिकी संस्थान भोपाल में स्थापित करने के लिये भोपाल जिले के ग्राम नबीबाग में शासकीय सीड मल्टीप्लीकेशन फार्म की 160 एकड़ भूमि भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद् नई दिल्ली को लीज पर देने का निर्णय लिया। इससे प्रदेश के किसानों के साथ-साथ अन्य प्रांतों के किसानों को भी उन्नत कृषि यंत्रों के संबंध में नवीन तकनीक एवं कृषि यंत्र उपलब्ध करवाये जा सकेंगे।

        मंत्रि-परिषद् ने भारत सरकार के विद्युत मंत्रालय द्वारा नवीकरणीय ऊर्जा स्त्रोतों पर आधारित प्रतिस्पर्धात्मक निविदा पद्धति के आधार पर दीर्घावधि विद्युत क्रय किये जाने के दिशा-निर्देश जारी किये जाने तक, राज्य में सौर ऊर्जा को छोड़कर अन्य नवीकरणीय स्त्रोतों से दीर्घावधि विद्युत क्रय अनुबंध मध्यप्रदेश विद्युत नियामक द्वारा निर्धारित दर तथा नवीकरणीय क्रय आबंधन की आवश्यकतों की सीमा में किये जाने का निर्णय लिया।

      मंत्रि-परिषद् ने राज्य की स्वामित्व वाली वितरण तथा व्यापारिक अनुज्ञप्तिधारी कम्पनियों को बेची या प्रदाय की जाने वाली विद्युत को विद्युत शुल्क के भुगतान से छूट देने का निर्णय लिया।


 
बड़ी खबरें (Breaking News)
आगे पढें...
 
एम. पी. राग ब्लॉग
Rajesh Dubey
ब्लॉग के लिए यहां क्लिक करें
 
फोटो गेलरी
More
 
वीडियो गेलरी
More
 
राशिफल
 Aries / मेष राशि
 
Opinion Poll
Q.
Yes No Don't Say
Previous Poll
Q.
Yes :  |  No :  |  Don't Say :
 
Advertisment


 
 
you can ad here ......
 
संपर्क करें      मुख्य सवाल जवाब      आपके सुझाव      संस्थान    
Copyright © 2013-14 www.mpnewslive.com