ताज़ा समाचार   उच्च शिक्षा मंत्री द्वारा एक्यूप्रेशर पार्क के विकास कार्यों का भूमि-पूजन                युवा बढ़े सपने देखें और समृद्ध देश के निर्माण में सहयोग करें                ग्वालियर में भी चलेगी मेट्रो..                रबी सीजन में ट्रांसफार्मर प्रबंधन पर विशेष जोर                अनुसूचित जाति विद्यार्थियों के छात्रावासों में 10 हजार सीट की वृद्धि                श्रम कानूनों को सरल बनाने मंत्रि-परिषद् द्वारा बड़े संशोधनों को मंजूरी                उद्योग संवर्धन नीति-2014 का अनुमोदन                प्रदेश के 212 विकासखण्ड में द्वार-प्रदाय योजना                6 दिसंबर 2014 को सभी स्तर के न्यायालय में नेशनल एवं मेगा लोक अदालत                मध्यप्रदेश दिवस समारोह में "स्वच्छ मध्यप्रदेश" होगी मुख्य थीम                    
छात्रवृत्ति निर्धारित समयावधि में बँटे

MPNEWSLIVE :1 सितम्बर  , 2014 

भोपाल ।। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने निर्धारित समयावधि में छात्रवृत्ति का वितरण सुनिश्चित करने के निर्देश दिये हैं।  चौहान आज यहाँ अनुसूचित जाति, जनजाति और पिछड़ा वर्ग की छात्रवृत्तियों के वितरण की समीक्षा कर रहे थे। बैठक में मुख्य सचिव  अंटोनी डिसा भी मौजूद थे।

     मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि प्रदेश का प्रत्येक बच्चा स्कूल जाये और बारहवीं तक शिक्षा प्राप्त करे। इसी मंशा से छात्रवृत्ति की विभिन्न योजनाएँ संचालित हैं। उन्होंने निर्देश दिये कि गत वर्ष की लंबित छात्रवृत्तियों का वितरण सितम्बर माह में अनिवार्यत: हो जाए। इस वर्ष की सभी छात्रवृत्तियों का भी वर्ष अंत तक वितरण हो जाना चाहिए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि स्कूलों में कितने बच्चे इस वर्ष पढ़ रहे हैं, गत वर्ष से कितने बच्चे पढ़ रहे थे, कितने बच्चे स्कूल नहीं जा रहे हैं, इसकी जानकारी प्राप्त की जाए। उन्होंने स्कूल चलें हम अभियान की इम्पेक्ट स्टडी करवाने और उसके परिणामों के आधार पर अभियान का दूसरा चरण संचालित करने के निर्देश दिये।
       बैठक में बताया गया कि देश में पहली बार मध्यप्रदेश में कक्षा एक से बारहवीं तक के समस्त विद्यार्थियों की मेपिंग का कार्य किया गया है। व्यवस्था में प्रदेश के छात्र को केवल एक बार पहली कक्षा में प्रवेश के समय पर आवेदन देना होगा। उसके बाद बारहवीं तक उसे पात्रता अनुसार छात्रवृत्ति मिलती रहेगी। बैठक में बताया गया कि फीस नियामक आयोग द्वारा इंजीनियरिंग कॉलेजों की फीस का पुनर्निर्धारण किया गया है। शासन द्वारा पात्रतानुसार छात्रों की फीस की प्रतिपूर्ति की जा रही है।
      बैठक में अपर मुख्य सचिव स्कूल शिक्षा  एस.आर. मोहंती, अपर मुख्य सचिव पिछड़ा वर्ग श्रीमती सुरंजना रे, प्रमुख सचिव अनुसूचित जाति कल्याण विभाग अशोक कुमार शाह, आयुक्त आदिवासी विकास उमाकांत उमराव एवं आयुक्त अनुसूचित जाति विकास जे.एन. मालपानी भी उपस्थित थे।

 
बड़ी खबरें (Breaking News)
आगे पढें...
 
एम. पी. राग ब्लॉग
Rajesh Dubey
ब्लॉग के लिए यहां क्लिक करें
 
फोटो गेलरी
More
 
वीडियो गेलरी
More
 
राशिफल
 Aries / मेष राशि
 
Opinion Poll
Q.
Yes No Don't Say
Previous Poll
Q.
Yes :  |  No :  |  Don't Say :
 
Advertisment


 
 
you can ad here ......
 
संपर्क करें      मुख्य सवाल जवाब      आपके सुझाव      संस्थान    
Copyright © 2013-14 www.mpnewslive.com