ताज़ा समाचार   उच्च शिक्षा मंत्री द्वारा एक्यूप्रेशर पार्क के विकास कार्यों का भूमि-पूजन                युवा बढ़े सपने देखें और समृद्ध देश के निर्माण में सहयोग करें                ग्वालियर में भी चलेगी मेट्रो..                रबी सीजन में ट्रांसफार्मर प्रबंधन पर विशेष जोर                अनुसूचित जाति विद्यार्थियों के छात्रावासों में 10 हजार सीट की वृद्धि                श्रम कानूनों को सरल बनाने मंत्रि-परिषद् द्वारा बड़े संशोधनों को मंजूरी                उद्योग संवर्धन नीति-2014 का अनुमोदन                प्रदेश के 212 विकासखण्ड में द्वार-प्रदाय योजना                6 दिसंबर 2014 को सभी स्तर के न्यायालय में नेशनल एवं मेगा लोक अदालत                मध्यप्रदेश दिवस समारोह में "स्वच्छ मध्यप्रदेश" होगी मुख्य थीम                    
मध्यप्रदेश की सभी जेलों की समग्र रूप से होगी जाँच

MPNEWSLIVE :5 सितम्बर  , 2014 

भोपाल ।। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मध्यप्रदेश की सभी जेल की समग्र स्थितियों की सघन जाँच के निर्देश दिये हैं। उन्होंने निर्देशित किया है कि इंदौर जेल जैसी घटना की पुनरावृत्ति नहीं हो। चौहान ने आज एक बैठक में इंदौर की जेल में गुरूवार को हुई वारदात तथा विभाग द्वारा की जा रही कार्रवाई की जानकारी ली। गृह मंत्री श्री बाबूलाल गौर भी बैठक में उपस्थित थे।

     चौहान ने कहा कि जेल के भीतर वारदात होना अत्यंत गंभीर मामला है। इसके पीछे कौन हैं, घटना किन परिस्थितियों में हुई, जेल की सुरक्षा व्यवस्था में लीकेज कहाँ है आदि सभी की व्यापक और बिन्दुवार जाँच की जाय। उन्होंने निर्देश दिये कि प्रदेश की सभी जेल में लगातार चेकिंग की नियमित प्रक्रिया चलायी जाए।

      बैठक में इंदौर की केन्द्रीय जेल के बारे में बताया गया कि वहाँ 16 मीटर ऊँचाई की दूसरी दीवार बनायी जायेगी। लगभग साढ़े तीन करोड़ रूपये की इस परियोजना के लिये 74 लाख का बजट मिल गया है। दीवार के निर्माण में दो वर्ष का समय लगने की जानकारी देने पर मुख्यमंत्री ने कहा कि निर्माण की अत्याधुनिक तकनीकी उपलब्धता के बावजूद इतना समय नहीं लगना चाहिए। उन्होंने कार्य शीघ्र पूर्ण करवाने के निर्देश दिए। जानकारी दी गयी कि जेल के भीतर सभी सामग्री स्केन होकर ही पहुँचती है। इंदौर सहित प्रदेश की सभी जेलों में चेकिंग बढ़ा दी गयी है। इंदौर जेल में कट्टा दीवार से फेंक कर भेजे जाने की जानकारी दी गयी। कट्टा भेजने वालों को पकड़ लिया है। बताया गया कि सांवेर रोड स्थित निर्माणाधीन जेल का काम पिछले वर्षों से बंद है। इसमें कोई 125 करोड़ का व्यय होना है। चौहान ने जेल का निर्माण कार्य भी पूर्ण करने का प्रस्ताव प्रस्तुत करने के निर्देश दिये।
     बैठक में प्रमुख सचिव गृह बसंत प्रताप सिंह, पुलिस महानिदेशक  नंदन दुबे, महानिदेशक जेल  सुरेन्द्र सिंह और मुख्यमंत्री के विशेष कर्त्तव्यस्थ अधिकारी  सुधीर सक्सेना भी उपस्थित थे।

 
बड़ी खबरें (Breaking News)
आगे पढें...
 
एम. पी. राग ब्लॉग
Rajesh Dubey
ब्लॉग के लिए यहां क्लिक करें
 
फोटो गेलरी
More
 
वीडियो गेलरी
More
 
राशिफल
 Aries / मेष राशि
 
Opinion Poll
Q.
Yes No Don't Say
Previous Poll
Q.
Yes :  |  No :  |  Don't Say :
 
Advertisment


 
 
you can ad here ......
 
संपर्क करें      मुख्य सवाल जवाब      आपके सुझाव      संस्थान    
Copyright © 2013-14 www.mpnewslive.com