ताज़ा समाचार   उच्च शिक्षा मंत्री द्वारा एक्यूप्रेशर पार्क के विकास कार्यों का भूमि-पूजन                युवा बढ़े सपने देखें और समृद्ध देश के निर्माण में सहयोग करें                ग्वालियर में भी चलेगी मेट्रो..                रबी सीजन में ट्रांसफार्मर प्रबंधन पर विशेष जोर                अनुसूचित जाति विद्यार्थियों के छात्रावासों में 10 हजार सीट की वृद्धि                श्रम कानूनों को सरल बनाने मंत्रि-परिषद् द्वारा बड़े संशोधनों को मंजूरी                उद्योग संवर्धन नीति-2014 का अनुमोदन                प्रदेश के 212 विकासखण्ड में द्वार-प्रदाय योजना                6 दिसंबर 2014 को सभी स्तर के न्यायालय में नेशनल एवं मेगा लोक अदालत                मध्यप्रदेश दिवस समारोह में "स्वच्छ मध्यप्रदेश" होगी मुख्य थीम                    
मध्यप्रदेश में उर्वरक, पॉलीमर पार्क और इस्पात संयंत्र की स्थापना होगी

MPNEWSLIVE :19 सितम्बर , 2014 

भोपाल ।। मध्यप्रदेश में उर्वरक संयंत्र, पॉलीमर पार्क, इस्पात संयंत्र और अंतर्राष्ट्रीय-स्तर का औषधि शिक्षा एवं अनुसंधान संस्थान स्थापित होंगे। यह निर्णय आज मध्यप्रदेश भवन नई दिल्ली में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की पहल पर केन्द्रीय रसायन एवं उर्वरक मंत्री अनंत कुमार, इस्पात मंत्री  नरेन्द्र सिंह तोमर, पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान तथा उर्वरक राज्य मंत्री श्री निहालचंद और वरिष्ठ अधिकारियों के साथ हुई बैठक में लिया गया।

   राज्य में स्थापित और स्थापित होने वाले उद्योगों की सहूलियत के लिये आज की बैठक के यह फैसले इंदौर में आगामी 8-10 अक्टूबर को होने वाली ग्लोबल इनवेस्टर समिट की कामयाबी में मील का पत्थर साबित होंगे।

भोपाल में विशेष कार्य समूह की बैठक 30 सितम्बर को

    बैठक में इन विषयों पर काम करने के लिये मुख्य सचिव अंटोनी डिसा के समन्वय में केन्द्र सरकार के उर्वरक एवं रसायन मंत्रालय, इस्पात मंत्रालय तथा पेट्रोलियम एवं गैस मंत्रालय के अधिकारियों का एक संयुक्त कार्य-समूह गठित किया गया है। इस समूह की 30 सितम्बर को भोपाल में बैठक होगी। कार्य-समूह में सेल एवं गेल के प्रतिनिधि भी शामिल हैं।

भोपाल में घर-घर कुकिंग गैस पहुँचाने पर हुई चर्चा

      बैठक में भोपाल में घर-घर कुकिंग गैस पहुँचाने, मध्यप्रदेश में उर्वरक संयंत्र, इस्पात संयंत्र, राष्ट्रीय-स्तर के फार्मेसी, शिक्षण एवं शोध संस्थान की स्थापना, बीना-ओमान रिफायनरी के उत्पादन में वृद्धि, प्लास्टिक विज्ञान संबंधी प्रशिक्षण संस्थान की छात्र क्षमता 4000 से 7000 सालाना करने, पॉलीमर पार्क स्थापित करने जैसी महत्वपूर्ण योजनाओं को धरातल पर लाने की दिशा में गंभीर मंथन हुआ। उल्लेखनीय है कि प्लास्टिक विज्ञान संबंधी प्रशिक्षण संस्थान के शत-प्रतिशत छात्रों को रोजगार मिलता है।
     बैठक में मध्यप्रदेश में पेट्रो रसायन उत्पादों की उपलब्धता की दृष्टि से बीना तेल शोधन संयंत्र की क्षमता प्रथम चरण में 6000 एमएमटीपीए से बढ़ाकर 8000 तथा बाद में 15 हजार एमएमटीपीए करने का लक्ष्य तय किया गया। इससे प्रदेश में औद्योगीरण के प्रयासों को गति मिलेगी।

जबलपुर में गैस आधारित उर्वरक संयंत्र लगेगा

       बैठक में प्रदेश में कृषि की विकास दर 24.99 प्रतिशत तक होने जैसे कीर्तिमान को ध्यान में रखते हुए उर्वरक का कारखाना लगाने पर जोर दिया गया। इस दिशा में गेल की सूरत-पारादीप गैस पाइप लाइन से जबलपुर में एक गैस आधारित उर्वरक कारखाना लगाने का निर्णय लिया गया।

 
बड़ी खबरें (Breaking News)
आगे पढें...
 
एम. पी. राग ब्लॉग
Rajesh Dubey
ब्लॉग के लिए यहां क्लिक करें
 
फोटो गेलरी
More
 
वीडियो गेलरी
More
 
राशिफल
 Aries / मेष राशि
 
Opinion Poll
Q.
Yes No Don't Say
Previous Poll
Q.
Yes :  |  No :  |  Don't Say :
 
Advertisment


 
 
you can ad here ......
 
संपर्क करें      मुख्य सवाल जवाब      आपके सुझाव      संस्थान    
Copyright © 2013-14 www.mpnewslive.com