ताज़ा समाचार   उच्च शिक्षा मंत्री द्वारा एक्यूप्रेशर पार्क के विकास कार्यों का भूमि-पूजन                युवा बढ़े सपने देखें और समृद्ध देश के निर्माण में सहयोग करें                ग्वालियर में भी चलेगी मेट्रो..                रबी सीजन में ट्रांसफार्मर प्रबंधन पर विशेष जोर                अनुसूचित जाति विद्यार्थियों के छात्रावासों में 10 हजार सीट की वृद्धि                श्रम कानूनों को सरल बनाने मंत्रि-परिषद् द्वारा बड़े संशोधनों को मंजूरी                उद्योग संवर्धन नीति-2014 का अनुमोदन                प्रदेश के 212 विकासखण्ड में द्वार-प्रदाय योजना                6 दिसंबर 2014 को सभी स्तर के न्यायालय में नेशनल एवं मेगा लोक अदालत                मध्यप्रदेश दिवस समारोह में "स्वच्छ मध्यप्रदेश" होगी मुख्य थीम                    
जांच आयोग आज सौंपेगा राज्‍य सरकार को रिपोर्ट

MPNEWSLIVE : 24 नवम्बर, 2014 

भोपाल ।। यूनियन कार्बाइड जहरीली गैस जांच आयोग सोमवार को राज्य शासन को रिपोर्ट सौंपेगा। राज्य सरकार द्वारा 2010 में गठित आयोग इस बात की जांच कर रहा है कि एंडरसन को गिरफ्तार करने के बाद राज्य सरकार के विशेष विमान से उसे पहले दिल्ली और बाद में अमेरिका भगाने में किसकी भूमिका रही है।

हालांकि गैस कांड के मुख्य आरोपी वारेन एंडरसन की मौत हो चुकी है। साथ ही केन्द्र व राज्य सरकार में बैठे उन लोगों की भी मौत हो चुकी है, जिनके नाम एंडरसन को भगाने में लिए जाते हैं।
एंडरसन को सुरक्षित निकलने देने के लिए तत्कालीन प्रधानमंत्री स्व. राजीव गांधी व तत्कालीन मुख्यमंत्री स्व. अर्जुन सिंह को दोषी माना जाता है। आयोग की रिपोर्ट से यह साफ हो जाएगा कि इस मामले में इन दोनो नेताओं की क्या भूमिका थी?
'रिपोर्ट में कंपनी की भूमिका तय हो तो गैस पीड़ितों का होगा भला
यूनियन कार्बाइड जहरीली गैस कांंड जांच आयोग सोमवार को शासन को जांच रिपोर्ट सौंपेगा। इस बारे में गैस संगठनों के प्रतिनिधियों का कहना है कि रिपोर्ट का गैस पीडितों को तभी फायदा होगा, यदि इसमें हादसे के लिए जिम्मेदार कंपनी यूनियन कार्बाइड पर फोकस किया जाए। साथ ही सरकार रिपोर्ट पर कैसे एक्शन लेगी, यह देखने लायक होगा। नहीं तो रिपोर्ट का कोई फायदा गैस पीड़ितों को होने वाला नहीं है।
गैस पीड़ित निराश्रित पेंशन भोग संघर्ष मोर्चा के अध्यक्ष बालकृष्ण नामदेव का कहना है कि यदि रिपोर्ट में हादसे के लिए जिम्मेदार वारेन एंडरसन की मदद करने वालों के नामों का खुलासा होता है, तो बस इसका राजनीतिक इस्तेमाल किया जा सकता है।
गैस कांड के बाद तत्कालीन मुख्यमंत्री मोतीलाल वोरा के समय भी एक आयोग बना था, जिसे रिपोर्ट देने के पहले भंग कर दिया गया था। मुख्य आरोपी एंडरसन समेत कथित तौर पर उसकी मदद करने वाले प्रमुख लोगों की मौत हो चुकी है। गैस पीड़ितों का रिपोर्ट का फायदा तभी होगा, जब रिपोर्ट में हादसे के लिए जिम्मेदार कंपनी की भूमिका तय की गई हो।

 
बड़ी खबरें (Breaking News)
आगे पढें...
 
एम. पी. राग ब्लॉग
Rajesh Dubey
ब्लॉग के लिए यहां क्लिक करें
 
फोटो गेलरी
More
 
वीडियो गेलरी
More
 
राशिफल
 Aries / मेष राशि
 
Opinion Poll
Q.
Yes No Don't Say
Previous Poll
Q.
Yes :  |  No :  |  Don't Say :
 
Advertisment


 
 
you can ad here ......
 
संपर्क करें      मुख्य सवाल जवाब      आपके सुझाव      संस्थान    
Copyright © 2013-14 www.mpnewslive.com