ताज़ा समाचार   उच्च शिक्षा मंत्री द्वारा एक्यूप्रेशर पार्क के विकास कार्यों का भूमि-पूजन                युवा बढ़े सपने देखें और समृद्ध देश के निर्माण में सहयोग करें                ग्वालियर में भी चलेगी मेट्रो..                रबी सीजन में ट्रांसफार्मर प्रबंधन पर विशेष जोर                अनुसूचित जाति विद्यार्थियों के छात्रावासों में 10 हजार सीट की वृद्धि                श्रम कानूनों को सरल बनाने मंत्रि-परिषद् द्वारा बड़े संशोधनों को मंजूरी                उद्योग संवर्धन नीति-2014 का अनुमोदन                प्रदेश के 212 विकासखण्ड में द्वार-प्रदाय योजना                6 दिसंबर 2014 को सभी स्तर के न्यायालय में नेशनल एवं मेगा लोक अदालत                मध्यप्रदेश दिवस समारोह में "स्वच्छ मध्यप्रदेश" होगी मुख्य थीम                    
दस्तावेजों के ई-पंजीयन की व्यवस्था सभी जिलों मे अप्रैल से

MPNEWSLIVE : 15 दिसम्बर, 2014 

भोपाल ।। मध्यप्रदेश के सभी जिले में सम्पत्ति के दस्तावेजों के ई-पंजीयन (सम्पदा) की व्यवस्था आगामी अप्रैल माह में शुरू हो जायेगी। आज 15 दिसम्बर से 5 जिले में यह व्यवस्था शुरू हो गई है। यह जिले हैं- उज्जैन, सीहोर, टीकमगढ़, बालाघाट और अनूपपुर। वित्त एवं वाणिज्यिक कर मंत्री श्री जयंत मलैया ने आज सीहोर में ई-पंजीयन व्यवस्था का शुभारंभ किया।

ई-पंजीयन व्यवस्था में दस्तावेजों का ऑनलाइन पंजीयन किया जायेगा। साथ ही आम लोगों को अब स्टाम्प वेण्डरों एवं कोषालय से प्रिंटेड स्टाम्प प्राप्त करने के लिए भटकना नहीं पड़ेगा। इन्टरनेट बेंकिंग से या सर्विस प्रोवाईडर के माध्यम से किसी भी कार्य के लिए ई-स्टाम्प प्राप्त कर कार्य सम्पन्न करवाया जा सकेगा। इससे कहीं भी स्टाम्प की कमी भी नहीं होगी।
ई-पंजीयन व्यवस्था में कोई भी व्यक्ति इन्टरनेट के माध्यम से प्रदेश के किसी भी जिले में स्थित अपनी सम्पत्ति का बाजार मूल्य तथा उसकी खरीद-ब्रिकी पर लगने वाले स्टाम्प शुल्क और पंजीयन फीस की जानकारी प्राप्त कर सकता है।
इसके अलावा प्रदेश के किसी भी स्थान की रजिस्ट्री की जानकारी सर्च द्वारा प्राप्त करने के साथ-साथ रजिस्ट्री दस्तावेज की कापी आनलाईन घर बैठे प्राप्त की जा सकती है। विभाग द्वारा सम्पत्ति पर बेंक द्वारा दिये गये लोन के भार की जानकारी भी आनलाईन उपलब्ध करवाने की कार्यवाही की जा रही है।
ई-पंजीयन व्यवस्था में ऐसे दस्तावेजों का ई-पंजीयन करवाया जाना अनिवार्य है, जो रजिस्ट्रीकरण अधिनियम में आते हैं। शेष दस्तावेजों का ई-पंजीयन ऐच्छिक होगा।

 
बड़ी खबरें (Breaking News)
आगे पढें...
 
एम. पी. राग ब्लॉग
Rajesh Dubey
ब्लॉग के लिए यहां क्लिक करें
 
फोटो गेलरी
More
 
वीडियो गेलरी
More
 
राशिफल
 Aries / मेष राशि
 
Opinion Poll
Q.
Yes No Don't Say
Previous Poll
Q.
Yes :  |  No :  |  Don't Say :
 
Advertisment


 
 
you can ad here ......
 
संपर्क करें      मुख्य सवाल जवाब      आपके सुझाव      संस्थान    
Copyright © 2013-14 www.mpnewslive.com