ताज़ा समाचार   उच्च शिक्षा मंत्री द्वारा एक्यूप्रेशर पार्क के विकास कार्यों का भूमि-पूजन                युवा बढ़े सपने देखें और समृद्ध देश के निर्माण में सहयोग करें                ग्वालियर में भी चलेगी मेट्रो..                रबी सीजन में ट्रांसफार्मर प्रबंधन पर विशेष जोर                अनुसूचित जाति विद्यार्थियों के छात्रावासों में 10 हजार सीट की वृद्धि                श्रम कानूनों को सरल बनाने मंत्रि-परिषद् द्वारा बड़े संशोधनों को मंजूरी                उद्योग संवर्धन नीति-2014 का अनुमोदन                प्रदेश के 212 विकासखण्ड में द्वार-प्रदाय योजना                6 दिसंबर 2014 को सभी स्तर के न्यायालय में नेशनल एवं मेगा लोक अदालत                मध्यप्रदेश दिवस समारोह में "स्वच्छ मध्यप्रदेश" होगी मुख्य थीम                    
शिवराज ने प्रधानमंत्री को दिया मध्‍यप्रदेश आने का न्‍योता

MPNEWSLIVE : 14 जनवरी, 2015

भोपाल ।। मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार को नई दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से उनके निवास पर भेंट कर उन्हें खंडवा जिले में स्थित सिंगाजी ताप विद्युतगृह के लोकार्पण के लिये मध्यप्रदेश आने का न्यौता दिया। उन्होंने  मोदी से अप्रैल, 2016 में होने वाले 'सिंहस्थ' महाकुम्भ में उज्जैन आने का भी आग्रह किया।

उन्‍होंने बताया कि राज्य सरकार इस बार सिंहस्थ पर स्वच्छ भारत निर्माण, आध्यात्म, पर्यावरण एवं पृथ्वी संरक्षण विषय पर अंतर्राष्ट्रीय संगोष्ठियों का भी आयोजन करेगी। प्रधानमंत्री के समक्ष मुख्यमंत्री ने मध्यप्रदेश के बासमती उत्पादक कृषकों की पीड़ा और इस संबंध में राज्य की गहन चिंता का उल्लेख करते हुए एपीडा द्वारा बासमती चावल के संबंध में भौगोलिक पंजीयक चेन्नई के 31 दिसम्बर 2013 के फैसले, जिसमें बासमती चावल उत्पादक राज्यों में मध्यप्रदेश को शामिल करने का आदेश दिया गया था, के विरूद्ध अपील में चले जाने का प्रकरण रखा।
एपीडा के बौद्धिक सम्पदा अधिकार सम्बन्धी बोर्ड में चले जाने से जहाँ प्रदेश के किसानों के हितों पर तुषारापात हुआ है, वहीं अंतर्राष्ट्रीय बाजार में पाकिस्तानी बासमती चावल खरीदे जाने की स्थितियां निर्मित हो रही हैं। श्री चौहान ने प्रधानमंत्री से इस दिशा में कदम उठाने की अपील की ताकि प्रदेश के बासमती चावल उत्पादक कृषकों के हितों की रक्षा की जा सके और प्रदेश के बासमती चावल का निर्यात पूर्ववत जारी रह सके।
मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री से प्राइवेट-पब्लिक पार्टनरशिप (पीपीपी) का दायरा बढ़ाने का आग्रह किया। उन्होंने अपशिष्ट प्रबंधन, ग्रामीण पेयजल योजना, माइक्रो इरीगेशन, लॉजिस्टिक पार्क, मेडिकल कॉलेज, भोपाल और इंदौर की मेट्रो रेल आदि को प्राइवेट-पब्लिक पार्टनरशिप के दायरे में लाने के लिए व्यवहारिक अंतरकोष (बीजीएफ) में संशोधन के लिये वित्त विभाग को निर्देशित करने का आग्रह किया।

 
बड़ी खबरें (Breaking News)
आगे पढें...
 
एम. पी. राग ब्लॉग
Rajesh Dubey
ब्लॉग के लिए यहां क्लिक करें
 
फोटो गेलरी
More
 
वीडियो गेलरी
More
 
राशिफल
 Aries / मेष राशि
 
Opinion Poll
Q.
Yes No Don't Say
Previous Poll
Q.
Yes :  |  No :  |  Don't Say :
 
Advertisment


 
 
you can ad here ......
 
संपर्क करें      मुख्य सवाल जवाब      आपके सुझाव      संस्थान    
Copyright © 2013-14 www.mpnewslive.com