ताज़ा समाचार   उच्च शिक्षा मंत्री द्वारा एक्यूप्रेशर पार्क के विकास कार्यों का भूमि-पूजन                युवा बढ़े सपने देखें और समृद्ध देश के निर्माण में सहयोग करें                ग्वालियर में भी चलेगी मेट्रो..                रबी सीजन में ट्रांसफार्मर प्रबंधन पर विशेष जोर                अनुसूचित जाति विद्यार्थियों के छात्रावासों में 10 हजार सीट की वृद्धि                श्रम कानूनों को सरल बनाने मंत्रि-परिषद् द्वारा बड़े संशोधनों को मंजूरी                उद्योग संवर्धन नीति-2014 का अनुमोदन                प्रदेश के 212 विकासखण्ड में द्वार-प्रदाय योजना                6 दिसंबर 2014 को सभी स्तर के न्यायालय में नेशनल एवं मेगा लोक अदालत                मध्यप्रदेश दिवस समारोह में "स्वच्छ मध्यप्रदेश" होगी मुख्य थीम                    
प्रदेश में अब मकान बनाना होगा सस्ता, रेत की कीमत होगी कम

MPNEWSLIVE : 25 जनवरी, 2015

भोपाल ।। यदि आप अपना मकान बनवा रहे हैं या सोच रहे हैं तो यह खबर सुखद हो सकती है। मध्यप्रदेश सरकार रेत की कीमतें कम करने जा रही है। स्टेट माइनिंग कार्पोरेशन ने नई माइनिंग नीति का प्रस्ताव तैयार कर कैबिनेट के लिए भेज दिया है। इसके अनुसार अब ठेकेदार को खदान से तीन गुना कम दर पर यानि 125 रुपए प्रति घन मीटर के हिसाब से रेत दी जाएगी। वर्तमान में यह दर 374 रुपए प्रति घन मीटर है। ऐसे में 249 रुपए प्रति घन मीटर रेत के दामों में कमी आने से प्रति डंपर 3000 रुपए तक रेत के दाम कम होने की संभावना है।

प्रस्तावित नीति में ठेकेदारों को तीन गुना अधिक रेत उत्‍खननन करने की अनुमति दी जाएगी, इससे जहां सरकार का खजाना भरेगा वहीं दूसरी ओर रेत के संकट से होने वाले अवैध खनन पर भी अंकुश लगेगा। माइनिंग कार्पोरेशन अपने 18 जिलों में रेत खदानों का प्लान बनाकर ई-नीलामी करेगा। वर्ष 2012 में कार्पोरेशन ने खदान से 1 करोड़ 67 लाख घन मीटर रेत निकालने का टेंडर दिया था। नई नीति में माइनिंग प्लान बनाकर इसे तीन गुना यानि 4 करोड़ 61 लाख रेत उत्खनन करने का ठेका दिया जाना प्रस्तावित है। इससे राज्य सरकार को लगभग 500 करोड़ रुपए के राजस्व मिलने की संभावना है। वर्तमान में राज्य सरकार को 128 करोड़ का राजस्व मिल रहा है।
कलेक्टरों से छिनेंगी खदानें
 
प्रदेश में 18 जिलों के 53 तहसीलों में माइनिंग कार्पोरेशन रेत खदानों की नीलामी करता है, वहीं कलेक्टर इन जिलों की शेष 82 तहसीलों में रेत खदानें नीलाम करते हैं। प्रस्तावित नीति में कलेक्टर से 82 तहसीलों में रेत खदान नीलाम करने के अधिकार वापस लिए जाएंगे।
अब 18 जिलों की सभी तहसीलों की रेत खदानों की नीलामी माईनिंग कार्पोरेशन ही करेगा। वहीं 33 अन्य जिलों में रेत खदान की नीलामी करने का अधिकार कलेक्टरों के पास पूर्ववत बना रहेगा। नई नीति के अनुसार अब कलेक्टर को भी ई-ऑक्शन से ही रेत खदान आवंटित करना होंगी। वर्तमान में कलेक्टर मैन्युअली बोली लगाकर खदान आवंटित करते हैं।

 
बड़ी खबरें (Breaking News)
आगे पढें...
 
एम. पी. राग ब्लॉग
Rajesh Dubey
ब्लॉग के लिए यहां क्लिक करें
 
फोटो गेलरी
More
 
वीडियो गेलरी
More
 
राशिफल
 Aries / मेष राशि
 
Opinion Poll
Q.
Yes No Don't Say
Previous Poll
Q.
Yes :  |  No :  |  Don't Say :
 
Advertisment


 
 
you can ad here ......
 
संपर्क करें      मुख्य सवाल जवाब      आपके सुझाव      संस्थान    
Copyright © 2013-14 www.mpnewslive.com