ताज़ा समाचार   उच्च शिक्षा मंत्री द्वारा एक्यूप्रेशर पार्क के विकास कार्यों का भूमि-पूजन                युवा बढ़े सपने देखें और समृद्ध देश के निर्माण में सहयोग करें                ग्वालियर में भी चलेगी मेट्रो..                रबी सीजन में ट्रांसफार्मर प्रबंधन पर विशेष जोर                अनुसूचित जाति विद्यार्थियों के छात्रावासों में 10 हजार सीट की वृद्धि                श्रम कानूनों को सरल बनाने मंत्रि-परिषद् द्वारा बड़े संशोधनों को मंजूरी                उद्योग संवर्धन नीति-2014 का अनुमोदन                प्रदेश के 212 विकासखण्ड में द्वार-प्रदाय योजना                6 दिसंबर 2014 को सभी स्तर के न्यायालय में नेशनल एवं मेगा लोक अदालत                मध्यप्रदेश दिवस समारोह में "स्वच्छ मध्यप्रदेश" होगी मुख्य थीम                    
फर्जी नियुक्तियों की जांच : एसआईटी के सामने कांग्रेस नेता पहुंचे

MPNEWSLIVE : 02 मार्च, 2015

भोपाल ।। विधानसभा सचिवालय में हुई फर्जी नियुक्तियों के मामले की जांच कर रही एसआईटी के सामने आज कांग्रेस नेता भी पहुंचे। उन्होंने बीजेपी नेताओं के करीबी नरेंद्र मिश्रा और नरेंद्र शर्मा की नियुक्तियों में एफआईआर दर्ज की जाए।

इनकी नियुक्ति कराने वाले बीजेपी नेताओं को भी आरोपी बनाया जाए। साथ ही कांग्रेस ने विधानसभा सचिवालय में आरटीआई लगाकर 2004 से आज तक हुई नियुक्तियों, पदोन्नतियों और प्रतिनियुक्तियों के रिकॉर्ड की मांग की है।
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरुण यादव, नेता प्रतिपक्ष सत्यदेव कटारे, विधायक सचिन यादव, जिला कांग्रेस अध्यक्ष पीसी शर्मा, पार्षद योगेंद्र सिंह चौहान, मुख्य प्रवक्ता केके मिश्रा, मनोज शुक्ला सहित कई कांग्रेस नेता विधानसभा सचिवालय में फर्जी नियुक्ति की जांच करने वाली एसआईटी के दफ्तर पहुंचे। जहांगीराबाद थाना परिसर में एसआईटी के दफ्तर में कांग्रेस नेताओं ने आवेदन दिया।
उन्होंने आवेदन में कहा है कि विधानसभा सचिवालय में सुरक्षा अधिकारी नरेंद्र शर्मा बीजेपी के पूर्व सांसद रघुनंदन शर्मा के पुत्र हैं तो सत्कार अधिकारी नरेंद्र मिश्रा केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के करीबी हैं और वे उनके निजी स्टाफ में रह चुके हैं।
कांग्रेस का आरोप है कि ये नियुक्तियां भी फर्जी तरीके से हुईं हैं और नरेंद्र शर्मा व नरेंद्र मिश्रा सहित दोनों बीजेपी नेताओं के खिलाफ एफआईआर दर्ज की जाए। कांग्रेस नेताओं को एसआईटी के सलीम खान ने कहा कि आवेदन को जांच में शामिल कर लिया जाएगा मगर कांग्रेस अलग से एफआईआर दर्ज कराने पर अड़ी रही।
आरटीआई में आवेदन लगाया
वहीं मुख्य प्रवक्ता केके मिश्रा ने विधानसभा सचिवालय में एक सूचना के अधिकार का आज आवेदन दिया है। इसमें उन्होंने विधानसभा से 2004 और उसके बाद से आज तक वहां हुईं नियुक्तियों, पदोन्नतियों और प्रतिनियुक्तियों का पूरा रिकॉर्ड मांगा है।

 
बड़ी खबरें (Breaking News)
आगे पढें...
 
एम. पी. राग ब्लॉग
Rajesh Dubey
ब्लॉग के लिए यहां क्लिक करें
 
फोटो गेलरी
More
 
वीडियो गेलरी
More
 
राशिफल
 Aries / मेष राशि
 
Opinion Poll
Q.
Yes No Don't Say
Previous Poll
Q.
Yes :  |  No :  |  Don't Say :
 
Advertisment


 
 
you can ad here ......
 
संपर्क करें      मुख्य सवाल जवाब      आपके सुझाव      संस्थान    
Copyright © 2013-14 www.mpnewslive.com