ताज़ा समाचार   उच्च शिक्षा मंत्री द्वारा एक्यूप्रेशर पार्क के विकास कार्यों का भूमि-पूजन                युवा बढ़े सपने देखें और समृद्ध देश के निर्माण में सहयोग करें                ग्वालियर में भी चलेगी मेट्रो..                रबी सीजन में ट्रांसफार्मर प्रबंधन पर विशेष जोर                अनुसूचित जाति विद्यार्थियों के छात्रावासों में 10 हजार सीट की वृद्धि                श्रम कानूनों को सरल बनाने मंत्रि-परिषद् द्वारा बड़े संशोधनों को मंजूरी                उद्योग संवर्धन नीति-2014 का अनुमोदन                प्रदेश के 212 विकासखण्ड में द्वार-प्रदाय योजना                6 दिसंबर 2014 को सभी स्तर के न्यायालय में नेशनल एवं मेगा लोक अदालत                मध्यप्रदेश दिवस समारोह में "स्वच्छ मध्यप्रदेश" होगी मुख्य थीम                    
5 हजार मेगावाट से ज्यादा होगा नवकरणीय ऊर्जा का उत्पादन

MPNEWSLIVE : 15 मार्च, 2015

भोपाल ।। प्रदेश में बिजली उत्पादन में जल्द ही नवकरणीय ऊर्जा अपनी अहम भूमिका निभाएगा। मार्च 2017 तक इनसे बनने वाली बिजली उत्पादन की क्षमता 5 हजार 247 मेगावाट हो जाएगी। जो कि कुल बिजली उत्पादन का 21 फीसदी होगी। रीवा जिले की गुढ़ तहसील में दुनिया के सबसे बड़े 750 मेगावाट क्षमता के अल्ट्रा मेगा सोलर पार्क की स्थापना का कार्य तेजी से किया जा रहा है।

प्रदेश में नदी, नहर, बांध एवं अन्य जल स्त्रोतों में उपलब्ध जल के उपयोग से विद्युत उत्पादन किये जाने के लिए जल-विद्युत आधारित परियोजनाओं की स्थापना को भी प्रोत्साहित किया जा रहा है। इसके लिए हाल ही में निजी भूमि पर लगने वाले सौर ऊर्जा यूनिटों को वर्ष भर आवेदन करने की भी छूट दी गई है।
प्रदेश में सौर ऊर्जा के क्षेत्र में एशिया की सबसे बड़ी 130 मेगावाट क्षमता की सौर ऊर्जा आधारित विद्युत परियोजना नीमच जिले में स्थापित की गयी है। कृषि अवशिष्ट, अनुपयोगी लकड़ी के डन्ठलों और टुकड़ों का उपयोग कर बॉयोमास से विद्युत उत्पादन को भी प्रोत्साहित किया जा रहा है।

 


 
बड़ी खबरें (Breaking News)
आगे पढें...
 
एम. पी. राग ब्लॉग
Rajesh Dubey
ब्लॉग के लिए यहां क्लिक करें
 
फोटो गेलरी
More
 
वीडियो गेलरी
More
 
राशिफल
 Aries / मेष राशि
 
Opinion Poll
Q.
Yes No Don't Say
Previous Poll
Q.
Yes :  |  No :  |  Don't Say :
 
Advertisment


 
 
you can ad here ......
 
संपर्क करें      मुख्य सवाल जवाब      आपके सुझाव      संस्थान    
Copyright © 2013-14 www.mpnewslive.com