ताज़ा समाचार   उच्च शिक्षा मंत्री द्वारा एक्यूप्रेशर पार्क के विकास कार्यों का भूमि-पूजन                युवा बढ़े सपने देखें और समृद्ध देश के निर्माण में सहयोग करें                ग्वालियर में भी चलेगी मेट्रो..                रबी सीजन में ट्रांसफार्मर प्रबंधन पर विशेष जोर                अनुसूचित जाति विद्यार्थियों के छात्रावासों में 10 हजार सीट की वृद्धि                श्रम कानूनों को सरल बनाने मंत्रि-परिषद् द्वारा बड़े संशोधनों को मंजूरी                उद्योग संवर्धन नीति-2014 का अनुमोदन                प्रदेश के 212 विकासखण्ड में द्वार-प्रदाय योजना                6 दिसंबर 2014 को सभी स्तर के न्यायालय में नेशनल एवं मेगा लोक अदालत                मध्यप्रदेश दिवस समारोह में "स्वच्छ मध्यप्रदेश" होगी मुख्य थीम                    
व्यापमं का इंकार, शिक्षक भर्ती अब एडसिल से

MPNEWSLIVE : 11 जून, 2015

भोपाल ।।आदिम जाति कल्याण विभाग प्रदेश के 20 एकलव्य स्कूलों के लिए शिक्षकों की भर्ती व्यापमं (व्यावसायिक परीक्षा मंडल) से नहीं कराएगा। विभाग ने भर्ती परीक्षा के लिए तीन बार प्रस्ताव भेजा, पर व्यापमं ने इंकार कर दिया। शिक्षकों की कमी को पूरा करने के लिए अब विभाग ने केन्द्र सरकार की संस्था एजुकेशनल कन्सलटेंट इंडिया लिमिटेड (एडसिल) को भर्ती का प्रस्ताव भेजा है।

एकलव्य स्कूलों में 350 से ज्यादा नियमित पदों पर भर्ती होनी है। अनुसूचित जाति के छात्रों को निजी स्कूलों के समकक्ष शिक्षा मुहैया कराने के लिए केंद्र सरकार ने प्रदेश में सीबीएसई से संचालित 20 एकलव्य स्कूल खोले हैं। इनमें छात्र का रहने से लेकर शिक्षा का पूरा खर्चा केन्द्र सरकार उठाती है। स्कूलों में शिक्षकों की कमी को पूरा कराने के लिए सरकार भर्ती करने जा रही है।
केंद्र सरकार की संस्था एडसिल भी राष्ट्रीय स्तर पर भर्ती का काम करती है। संस्था के साथ प्रारंभिक दौर की चर्चा भी हो चुकी है। फीस को लेकर बात अंतिम दौर में है। आयुक्त, आदिम जाति कल्याण उमाकांत उमराव ने बताया कि पारदर्शिता के लिए भर्ती किसी शासकीय संस्था से ही कराई जाएगी। व्यापमं के पास समय का अभाव है, इसलिए दूसरी एजेंसियों से चर्चा की जा रही है। शिक्षकों का चयन मेरिट के आधार पर होगा। 
42 हजार प्रति छात्र खर्च:
एकलव्य स्कूलों में प्रवेश परीक्षा के जरिए छात्रों का चयन किया जाता है। आवासीय विद्यालयों में प्रति छात्र पर 42 हजार रुपए सालाना केन्द्र सरकार खर्च करती है। प्रदेश में पांच नए एकलव्य स्कूल खोलने की मंजूरी केंद्र सरकार ने दी है। इसके निर्माण में खर्च होने वाली राशि भी केंद्र ही देगा। राज्य सरकार को सिर्फ जमीन मुहैया करानी होगी।

 
बड़ी खबरें (Breaking News)
आगे पढें...
 
एम. पी. राग ब्लॉग
Rajesh Dubey
ब्लॉग के लिए यहां क्लिक करें
 
फोटो गेलरी
More
 
वीडियो गेलरी
More
 
राशिफल
 Aries / मेष राशि
 
Opinion Poll
Q.
Yes No Don't Say
Previous Poll
Q.
Yes :  |  No :  |  Don't Say :
 
Advertisment


 
 
you can ad here ......
 
संपर्क करें      मुख्य सवाल जवाब      आपके सुझाव      संस्थान    
Copyright © 2013-14 www.mpnewslive.com