ताज़ा समाचार   उच्च शिक्षा मंत्री द्वारा एक्यूप्रेशर पार्क के विकास कार्यों का भूमि-पूजन                युवा बढ़े सपने देखें और समृद्ध देश के निर्माण में सहयोग करें                ग्वालियर में भी चलेगी मेट्रो..                रबी सीजन में ट्रांसफार्मर प्रबंधन पर विशेष जोर                अनुसूचित जाति विद्यार्थियों के छात्रावासों में 10 हजार सीट की वृद्धि                श्रम कानूनों को सरल बनाने मंत्रि-परिषद् द्वारा बड़े संशोधनों को मंजूरी                उद्योग संवर्धन नीति-2014 का अनुमोदन                प्रदेश के 212 विकासखण्ड में द्वार-प्रदाय योजना                6 दिसंबर 2014 को सभी स्तर के न्यायालय में नेशनल एवं मेगा लोक अदालत                मध्यप्रदेश दिवस समारोह में "स्वच्छ मध्यप्रदेश" होगी मुख्य थीम                    
गरोठ विस उपचुनाव में जोखिम उठाना नहीं चाहती बीजेपी

MPNEWSLIVE : 11 जून, 2015

भोपाल ।। गरोठ विधानसभा उपचुनाव में बीजेपी कोई कोर कसर नहीं छोड़ना चाहती है। पार्टी ने इस उपचुनाव को प्रतिष्ठा का मुद्दा मान लिया है। बहोरीबंद उपचुनाव में पराजय से सबक लेते हुए पार्टी यहां मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान के साथ केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर और थावरचंद्र गहलोत को भी प्रचार में लगाएगी। पार्टी ने इस चुनाव में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के दावेदार देवीलाल धाकड़ को टिकट न देकर चंदरसिंह सिसौदिया को मैदान में उतारा है, जिसके चलते संघ के लोगों में नाराजगी भी है।

यही वजह है कि पार्टी किसी तरह का जोखिम नहीं उठाना चाहती है। प्रदेश के कुछ मंत्रियों को भी पार्टी उपचुनाव में भेजेगी। सूत्रों के मुताबिक बीजेपी ने जो रणनीति तैयार की है, उसके तहत मंदसौर और उसके आसपास के सभी नेताओं की ड्यूटी चुनाव में लगाई जाएगी। पूर्व मंत्री कैलाश चावला, जगदीश देवड़ा सहित सभी क्षेत्रीय नेताओं की मीटिंग लेकर संगठन महामंत्री अरविंद मेनन ने साफ कर दिया है कि उपचुनाव में किसी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। मेनन ने चुनाव की बागडोर किसान नेता बंशीलाल गुर्जर को सौंपी है। गुर्जर पूर्व में किसान संघ में रह चुके हैं। वे लोकसभा की टिकट के दावेदार थे।
क्षेत्र में उनका जनाधार है, पर पार्टी को सबसे बड़ा भय देवीलाल धाकड़ गुट का है। धाकड़ पूर्व में आरएसएस के मंदसौर के जिला कार्यवाह के पद पर तैनात थे। संघ के लोग भी चाहते थे कि उन्हें गरोठ से चुनाव मैदान में उतारा जाए। यही कारण है कि संघ ने उन्हें जिला कार्यवाह के उत्तरदायित्व से मुक्त कर दिया था, पर अब संघ को नजरंदाज कर टिकट दिए जाने के कारण भाजपा के नेता ज्यादा सतर्क हैं। पार्टी नेता धाकड़ गुट की नाराजगी दूर करने में लगे हुए हैं। पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान कहते हैं कि उपचुनाव में जीत के प्रति वे पूरी तरह आश्वस्त हैं। चुनाव के लिए सीएम और केंद्रीय मंत्रियों का भी चुनाव में सहयोग लिया जाएगा।

 
बड़ी खबरें (Breaking News)
आगे पढें...
 
एम. पी. राग ब्लॉग
Rajesh Dubey
ब्लॉग के लिए यहां क्लिक करें
 
फोटो गेलरी
More
 
वीडियो गेलरी
More
 
राशिफल
 Aries / मेष राशि
 
Opinion Poll
Q.
Yes No Don't Say
Previous Poll
Q.
Yes :  |  No :  |  Don't Say :
 
Advertisment


 
 
you can ad here ......
 
संपर्क करें      मुख्य सवाल जवाब      आपके सुझाव      संस्थान    
Copyright © 2013-14 www.mpnewslive.com