ताज़ा समाचार   उच्च शिक्षा मंत्री द्वारा एक्यूप्रेशर पार्क के विकास कार्यों का भूमि-पूजन                युवा बढ़े सपने देखें और समृद्ध देश के निर्माण में सहयोग करें                ग्वालियर में भी चलेगी मेट्रो..                रबी सीजन में ट्रांसफार्मर प्रबंधन पर विशेष जोर                अनुसूचित जाति विद्यार्थियों के छात्रावासों में 10 हजार सीट की वृद्धि                श्रम कानूनों को सरल बनाने मंत्रि-परिषद् द्वारा बड़े संशोधनों को मंजूरी                उद्योग संवर्धन नीति-2014 का अनुमोदन                प्रदेश के 212 विकासखण्ड में द्वार-प्रदाय योजना                6 दिसंबर 2014 को सभी स्तर के न्यायालय में नेशनल एवं मेगा लोक अदालत                मध्यप्रदेश दिवस समारोह में "स्वच्छ मध्यप्रदेश" होगी मुख्य थीम                    
भाजपा प्रदेशाध्यक्ष चौहान के खिलाफ एफआईआर कराने थाने पहुंचे कांग्रेसी

MPNEWSLIVE :31 जुलाई, 2015

भोपाल ।। व्यापमं घोटाले पर कांग्रेस के आरोपों का पलटवार करने के लिए भाजपा जिस पुस्तक 'व्यापमं-भ्रम और वास्तविकता" का सहारा ले रही है, उसके और भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान के खिलाफ कांग्रेस गुरुवार को थाने पहुंच गई।

प्रदेश कांग्रेस पदाधिकारियों ने टीटी नगर थाने में आवेदन देकर आरोप लगाया कि भाजपा द्वारा कथित रूप से छपवाई इस पुस्तक में शासकीय नोटशीट का दुरूपयोग किया गया, जो कि गैर-कानूनी है। कांग्रेस ने चौहान के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के साथ पुस्तक के अंत में दर्शाए स्वर्णिम भारत मंच नामक संस्था की जांच करने की मांग उठाई। पुलिस ने आवेदन लेकर कहा कि जांच उपरांत तथ्यों के आधार पर वैधानिक कार्रवाई की जाएगी।
प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष मानक अग्रवाल, चंद्रिका प्रसाद द्विवेदी, केके मिश्रा, विभा पटेल, जेपी धनोपिया, रवि सक्सेना, पंकज चतुर्वेदी सहित अन्य कांग्रेस नेताओं ने टीटी नगर थाने पहुंचकर सीएसपी आरडी भारद्वाज और मनीषराज सिंह को आवेदन सौंपा। इसमें कहा गया कि व्यापमं-भ्रम और वास्तविकता पुस्तक के प्रकाशक स्वर्णिम भारत मंच, अंकपात मार्ग उज्जैन और मुद्रक बिजन पब्लिकेशन भोपाल बताया है। इसमें न तो मंच का पता बताया गया और न ही प्रसार संख्या का उल्लेख किया गया।
24 पेज की इस पुस्तक को भाजपा विधायक दल और भाजपा पदाधिकारियों को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और प्रदेश अध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान की मौजूदगी में बांटा गया। इस पुस्तक के पेज 4 पर एक पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह द्वारा हस्ताक्षरित एक शासकीय नोटशीट का उपयोग किया गया। जबकि, नियमानुसार शासकीय दस्तावेज का निजी उपयोग नहीं किया जा सकता है। कांग्रेस ने आरोप लगाया कि पुस्तक भाजपा ने प्रकाशित कराई है और वितरित करा रही है।
इसके लिए प्रदेश अध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान सीधे जिम्मेदार हैं, इसलिए इनके और मुद्रक-प्रकाशक के खिलाफ एफआईआर दर्ज की जाए। कांग्रेस के दबाव डालने पर पुलिस अधिकारियों ने एफआईआर करने की जगह यह लिखकर दिया कि जांच उपरांत वैधानिक कार्रवाई हेतु आवेदन प्राप्त हुआ। अधिकारियों का कहना था कि यह मामला संज्ञेय अपराध है या नहीं, इसकी विवेचना के बाद ही आगे कार्रवाई की जा सकती है।

 
बड़ी खबरें (Breaking News)
आगे पढें...
 
एम. पी. राग ब्लॉग
Rajesh Dubey
ब्लॉग के लिए यहां क्लिक करें
 
फोटो गेलरी
More
 
वीडियो गेलरी
More
 
राशिफल
 Aries / मेष राशि
 
Opinion Poll
Q.
Yes No Don't Say
Previous Poll
Q.
Yes :  |  No :  |  Don't Say :
 
Advertisment


 
 
you can ad here ......
 
संपर्क करें      मुख्य सवाल जवाब      आपके सुझाव      संस्थान    
Copyright © 2013-14 www.mpnewslive.com