ताज़ा समाचार   उच्च शिक्षा मंत्री द्वारा एक्यूप्रेशर पार्क के विकास कार्यों का भूमि-पूजन                युवा बढ़े सपने देखें और समृद्ध देश के निर्माण में सहयोग करें                ग्वालियर में भी चलेगी मेट्रो..                रबी सीजन में ट्रांसफार्मर प्रबंधन पर विशेष जोर                अनुसूचित जाति विद्यार्थियों के छात्रावासों में 10 हजार सीट की वृद्धि                श्रम कानूनों को सरल बनाने मंत्रि-परिषद् द्वारा बड़े संशोधनों को मंजूरी                उद्योग संवर्धन नीति-2014 का अनुमोदन                प्रदेश के 212 विकासखण्ड में द्वार-प्रदाय योजना                6 दिसंबर 2014 को सभी स्तर के न्यायालय में नेशनल एवं मेगा लोक अदालत                मध्यप्रदेश दिवस समारोह में "स्वच्छ मध्यप्रदेश" होगी मुख्य थीम                    
किसानों को उपज का उचित दाम दिलाने मेगा फूड पार्क जरूरी

MPNEWSLIVE : 12 फरवरी, 2016

भोपाल ।। मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि किसानों को उनकी उपज का वाजिब दाम दिलवाने के लिए मेगा फूड पार्कों का होना जरूरी है। मुख्यमंत्री खरगोन जिला मुख्यालय से 60 किमी दूर ग्राम पानवा में 80 एकड़ क्षेत्रफल में 127 करोड़ की लागत से स्थापित इंडस मेगा फूड पार्क किसानों को समर्पित कर रहे थे। यह पार्क केंद्रीय खाद्य प्र-संस्करण उद्योग मंत्रालय एवं राज्य शासन के सहयोग से स्थापित हुआ है। इस अवसर पर केन्द्रीय शहरी विकास मंत्री  वैंकय्या नायडू, केन्द्रीय उद्योग मंत्री हरसिमरत कौर बादल, केन्द्रीय उद्योग राज्य मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति भी उपस्थित थीं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार कृषि को लाभकारी बनाने के लगातार प्रयास कर रही है। मेगा फूड पार्क इसी का हिस्सा है। उन्होंने कहा कि खाद्य-प्र-संस्करण इकाइयों की स्थापना से काश्तकारों को उनकी उपज का अच्छा दाम मिलेगा।
 चौहान ने कहा कि सिंचाई संसाधनों का विस्तार किया जा रहा है। आने वाले कुछ वर्षों में 60 लाख हेक्टेयर जमीन को सिंचित करने का लक्ष्य है। पूरे निमाड़ क्षेत्र में सिंचाई संसाधनों की व्यवस्था और विस्तार किया जा रहा है।
 चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना शुरू की गई है। अब किसानों को फसल का जितना नुकसान होगा, उसी के अनुरूप उसकी भरपाई भी होगी। मुख्यमंत्री ने बताया कि प्रदेश के किसानों ने गेहूँ उत्पादन में पंजाब को भी पीछे छोड़ दिया है। अगले साल से राज्य सरकार किसानों को एक लाख रुपए का ऋण देगी और साल भर बाद उसके बदले उनसे मात्र 90 हजार रुपए लेगी।

केंद्रीय मंत्री  वैंकय्या नायडू ने कहा कि देश में कृषि एवं उद्योग दोनों जरूरी हैं। कुछ वर्ष पहले किसानों को लगा था कि कृषि लाभकारी नहीं है। वे कृषि क्षेत्र को छोड़कर जाने लगे थे। इसीलिए प्रधानमंत्री ने कृषि क्षेत्र के विकास पर विशेष ध्यान दिया। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना उसी कड़ी का हिस्सा है।

 नायडू ने कहा कि मध्यप्रदेश के किसान लगातार कृषि क्षेत्र में आगे बढ़ रहे हैं। कृषि क्षेत्र में देश के अन्य राज्य मध्यप्रदेश का अनुसरण करें। मेगा फूड पार्कों की शुरूआत मध्यप्रदेश से हुई है। नायडू ने इंडस मेगा फूड पार्क की स्थापना के लिए काश्तकारों को बधाई देते हुए कहा कि इससे आसपास के क्षेत्र में सामाजिक एवं आर्थिक रूप से काफी बदलाव आएगा।

केंद्रीय खाद्य प्र-संस्करण उद्योग मंत्री  हरसिमरत कौर बादल ने कहा कि आज का दिन खरगोन जिले के लोगों के लिए सुनहरा एवं ऐतिहासिक है। उन्होंने कहा कि किसानों की हालत सुधारना है, तो खाद्य प्र-संस्करण उद्योग को बढ़ावा देना होगा। उन्होंने कहा कि देश में इस तरह के 42 मेगा फूड पार्क स्थापित किए जाएँगे।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने मेगा फूड पार्क से जुड़े प्रगतिशील किसानों का सम्मान किया।  चौहान और अतिथियों ने 'आपदा से परे किसानों की सफलता की कहानियाँ' स्मारिका का विमोचन किया।

इस अवसर पर प्रदेश की उद्यानिकी तथा खाद्य प्र-संस्करण मंत्री  कुसुमसिंह महदेले, राज्य अनुसूचित जाति आयोग अध्यक्ष  भूपेंद्र आर्य, सांसद सुभाष पटेल समेत अन्य जन-प्रतिनिधि एवं बड़ी संख्या में किसान उपस्थित थे।


 
बड़ी खबरें (Breaking News)
आगे पढें...
 
एम. पी. राग ब्लॉग
Rajesh Dubey
ब्लॉग के लिए यहां क्लिक करें
 
फोटो गेलरी
More
 
वीडियो गेलरी
More
 
राशिफल
 Aries / मेष राशि
 
Opinion Poll
Q.
Yes No Don't Say
Previous Poll
Q.
Yes :  |  No :  |  Don't Say :
 
Advertisment


 
 
you can ad here ......
 
संपर्क करें      मुख्य सवाल जवाब      आपके सुझाव      संस्थान    
Copyright © 2013-14 www.mpnewslive.com