ताज़ा समाचार   उच्च शिक्षा मंत्री द्वारा एक्यूप्रेशर पार्क के विकास कार्यों का भूमि-पूजन                युवा बढ़े सपने देखें और समृद्ध देश के निर्माण में सहयोग करें                ग्वालियर में भी चलेगी मेट्रो..                रबी सीजन में ट्रांसफार्मर प्रबंधन पर विशेष जोर                अनुसूचित जाति विद्यार्थियों के छात्रावासों में 10 हजार सीट की वृद्धि                श्रम कानूनों को सरल बनाने मंत्रि-परिषद् द्वारा बड़े संशोधनों को मंजूरी                उद्योग संवर्धन नीति-2014 का अनुमोदन                प्रदेश के 212 विकासखण्ड में द्वार-प्रदाय योजना                6 दिसंबर 2014 को सभी स्तर के न्यायालय में नेशनल एवं मेगा लोक अदालत                मध्यप्रदेश दिवस समारोह में "स्वच्छ मध्यप्रदेश" होगी मुख्य थीम                    
शांति के टापू मध्यप्रदेश में उद्योग लगाने की अपार संभावनाएँ

MPNEWSLIVE :7अप्रैल 2016 
भोपाल ।। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि मध्यप्रदेश शांति का टापू है। यहाँ उद्योग लगाने की अपार संभावनाएँ हैं। मुख्यमंत्री चौहान आज नई दिल्ली में मध्यप्रदेश में निवेश की संभावनाओं विषय पर सेमीनार में बोल रहे थे। सेमीनार मध्यप्रदेश सरकार और सीआईआई के संयुक्त तत्वावधान में हुआ।
 चौहान ने उद्योगपतियों से मुलाकात कर मध्यप्रदेश में निवेश के लिये उन्हें आमंत्रित किया और कहा कि निवेशकों को सरकार पूरा सहयोग देगी। निवेशक को राज्य में किसी भी प्रकार की असुविधा नहीं होगी। सेमीनार आगामी अक्टूबर माह में इंदौर में होने वाली ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट की तैयारियों और उद्योगपतियों को मध्यप्रदेश में निवेश के लिये आकर्षित करने के उद्देश्य से आयोजित किया गया था।
मुख्यमंत्री  चौहान ने कहा कि वर्ष 2014 में हुई जीआईएस में लगभग 6 लाख करोड़ रुपये के करारनामे हुए थे। डेढ़ वर्ष के अंदर ही 2 लाख करोड़ का निवेश जमीनी-स्तर पर साफ दिखायी दे रहा है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में भूमि अधिग्रहण की भी आवश्यकता नहीं है। उद्योग लगाने के लिये राज्य सरकार ने लेण्ड-बैंक बनाया है। इसमें 26 हजार हेक्टेयर भूमि उपलब्ध है। निवेशक प्रदेश में किसी भी स्थान से ऑनलाइन उद्योग लगाने के लिये भूमि ले सकता है। प्रदेश में अब सिंगल टेबल के कन्सेप्ट के आधार पर ही उद्योग लगाने की सभी कार्यवाही मौके पर ही की जा रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश ने लघु-कुटीर उद्योग को बढ़ावा देने के लिये एक अलग विभाग बनाया है।
वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने भी उद्योगपतियों के समूह को संबोधित किया। मुख्य सचिव अंटोनी डिसा ने प्रदेश के औद्योगिक परिदृश्य और प्रदेश सरकार द्वारा दी जा रही रियायत के बारे में बताया। सेमीनार में प्रमुख सचिव उद्योग मोहम्मद सुलेमान और मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव एस.के. मिश्रा मौजूद थे।

 
बड़ी खबरें (Breaking News)
आगे पढें...
 
एम. पी. राग ब्लॉग
Rajesh Dubey
ब्लॉग के लिए यहां क्लिक करें
 
फोटो गेलरी
More
 
वीडियो गेलरी
More
 
राशिफल
 Aries / मेष राशि
 
Opinion Poll
Q.
Yes No Don't Say
Previous Poll
Q.
Yes :  |  No :  |  Don't Say :
 
Advertisment


 
 
you can ad here ......
 
संपर्क करें      मुख्य सवाल जवाब      आपके सुझाव      संस्थान    
Copyright © 2013-14 www.mpnewslive.com