ताज़ा समाचार   उच्च शिक्षा मंत्री द्वारा एक्यूप्रेशर पार्क के विकास कार्यों का भूमि-पूजन                युवा बढ़े सपने देखें और समृद्ध देश के निर्माण में सहयोग करें                ग्वालियर में भी चलेगी मेट्रो..                रबी सीजन में ट्रांसफार्मर प्रबंधन पर विशेष जोर                अनुसूचित जाति विद्यार्थियों के छात्रावासों में 10 हजार सीट की वृद्धि                श्रम कानूनों को सरल बनाने मंत्रि-परिषद् द्वारा बड़े संशोधनों को मंजूरी                उद्योग संवर्धन नीति-2014 का अनुमोदन                प्रदेश के 212 विकासखण्ड में द्वार-प्रदाय योजना                6 दिसंबर 2014 को सभी स्तर के न्यायालय में नेशनल एवं मेगा लोक अदालत                मध्यप्रदेश दिवस समारोह में "स्वच्छ मध्यप्रदेश" होगी मुख्य थीम                    
हीरापुर में हुई यात्रा की अगवानी

MPNEWSLIVE : 5 अप्रैल, 2017

  भोपाल ।।   जीवनदायिनी माँ नर्मदा के संरक्षण एवं संवर्धन और प्रदूषण-मुक्त करने के उद्देश्य से निकाली जा रही नमामि देवि नर्मदे- सेवा यात्रा का आज नरसिंहपुर जिले में चांवरपाठा विकासखंड के ग्राम हीरापुर के समीप सिंदूर नदी के तट पर प्रवेश हुआ। यात्रा की अगवानी विधायक संजय शर्मा ने की। रायसेन जिले की ओर से यात्रा का ध्वज एवं कलश उदयपुरा के जनपद पंचायत के अध्यक्ष वीरेन्द्र सिंह चौहान, नगर पालिका के अध्यक्ष केशव सिंह पटेल और अन्य जन-प्रतिनिधियों ने नरसिंहपुर जिले को सौंपा। नरसिंहपुर जिले के लिए ध्वज संजय शर्मा और अपेक्स बैंक के पूर्व उपाध्यक्ष कैलाश सोनी ने प्राप्त किया। ध्वज और कलश की पूजा- अर्चना कर स्वागत किया गया।

  इस अवसर पर राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष एवं नरसिंहपुर जिले में उत्तरी तट नर्मदा सेवा यात्रा की प्रभारी श्रीमती लता वानखेड़े, जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक के अध्यक्ष  वीरेन्द्र फौजदार, नेहरू युवा केन्द्र के पूर्व राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्री विष्णुदत्त शर्मा, रायसेन और नरसिंहपुर के कलेक्टर तथा श्रद्धालु और ग्रामीण मौजूद थे।

जिले में नर्मदा सेवा यात्रा के प्रवेश पर हुआ भव्य स्वागत

यात्रा के प्रवेश पर जगह- जगह फूलों की माला, वंदनवार, केलों के पत्तों और तोरण द्वारों से मार्ग को सजाया गया था। महिलाओं ने कलश लेकर यात्रा की अगवानी की। घरों के सामने एवं रास्ते पर रांगोली सजाकर और पुष्प-वर्षा कर यात्रियों का अभिनंदन किया गया। युवा ध्वज के साथ घोड़े पर सवार होकर यात्रा के आगे- आगे चल रहे थे। स्वस्ति-वाचन, मंत्रोच्चार और शंख-ध्वनि से यात्रा की अगवानी की गई। बैंड बाजे से स्वागत किया गया। सिंदूर नदी के तट से करीब 3 किलोमीटर तक की यात्रा में आसपास के गाँवों के हजारों लोग, महिलाएँ, युवा एवं बुजुर्ग शामिल हुए। यात्रा-पथ नर्मदा संरक्षण के नारों और 'त्वदीय पाद पंकजम्- नमामि देवि नर्मदे' के घोष के साथ गुँजायमान हो रहा था।
      सिंदूर नदी के तट पर ध्वज एवं कलश और सेवा यात्रियों पर ड्रोन से पुष्प-वर्षा की गई।

 
बड़ी खबरें (Breaking News)
आगे पढें...
 
एम. पी. राग ब्लॉग
Rajesh Dubey
ब्लॉग के लिए यहां क्लिक करें
 
फोटो गेलरी
More
 
वीडियो गेलरी
More
 
राशिफल
 Aries / मेष राशि
 
Opinion Poll
Q.
Yes No Don't Say
Previous Poll
Q.
Yes :  |  No :  |  Don't Say :
 
Advertisment


 
 
you can ad here ......
 
संपर्क करें      मुख्य सवाल जवाब      आपके सुझाव      संस्थान    
Copyright © 2013-14 www.mpnewslive.com